खेलों से जहां स्वास्थ्य ठीक रहता है वहीं मानसिक विकास के साथ साथ शरीर भी स्फूर्ति प्राप्त करता है- डा. गरिमा मित्तल.

पंचकूला, 16 नवंबर- खेलों से जहां स्वास्थ्य ठीक रहता है वहीं मानसिक विकास के साथ साथ शरीर भी स्फूर्ति प्राप्त करता है और व्यक्ति के हर कार्य करने की इच्छा शक्ति में बढ़ोतरी होती है।
उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल बुधवार को खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग द्वारा सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवीलाल खेल परिसर में आयोजित दो दिवसीय हरियाणा राज्य सिविल सेवा (स्वर्ण जयंती) खेल प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में खिलाडिय़ों को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि हमें अपने जीवन में कोई न कोई अवश्य खेलना चाहिए ताकि शरीर हष्ट पुष्ट बना रहे और मानसिक विकास भी होता रहे। उन्होंने खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने कर्मचारियों की प्रतियोगिता करवाने का जो निर्णय लिया है वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को कार्यालयों में बैठकर कार्य करना होता है, जिससे वे किसी अन्य खेल गतिविधि में भाग नहीं ले पाते थे।
उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश देश का ऐसा राज्य है जो खेल गतिविधियों में अन्य राज्यों से कहीं आगे है। यहां के खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय खेलों के साथ साथ ओलंपिक में भी अन्य राज्यों से पदक प्राप्त करने में आगे है। वर्तमान सरकार द्वारा गांवों में खेल स्टेडियमों का निर्माण करवाया जा रहा है ताकि गांवों में छुपी खेल प्रतिभाओं को अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने के अवसर प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि खेलों में लड़कियां भी लडक़ों से आगे निकल रही है। अभी हाल में ही रियो ओलंपिक में हरियाणा की साक्षी मलिक ने पदक प्राप्त कर प्रदेश व देश का नाम रोशन किया है और उन्होंने सिद्ध कर दिया है कि बेटियां बेटो से आगे हो सकती है। उन्होंने खिलाडिय़ों से कहा कि जो इन प्रतियोगिताओं में अपने खेल का अच्छा प्रदर्शन करेंगे, उन खिलाडिय़ों का चयन राष्ट्रीय स्तर पर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि इन खिलाडिय़ों में से ही खिलाडिय़ों को राष्ट्रीय स्तर के लिए चयनित किया जाएगा। इससे पूर्व उन्होंने ध्वजारोहण किया तथा खेलों के शुभारं भ की घोषणा की। सेक्टर-7 स्थित सीनियर सेकंडरी स्कूल की पीटीआई अनिता संगवान ने खिलाडिय़ों को खेल को खेल की ही भावना से खेलने की शपथ दिलवाई।
जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी अनिता तेवतिया ने कहा कि हरियाणा देश का पहला प्रदेश है, जिसमें केंद्र सरकार की इस स्कीम के तहत गत वर्ष ये प्रतियोगिता आरंभ की गई थी और आज दूसरी प्रतियोगिता पंचकूला, अंबाला व सोनीपत में की जा रही है, जिनमें 20 खेलों को शामिल किया गया है। पंचकूला में आयोजित इस प्रतियोगिता में 6 खेलों को शामिल किया गया है। जैसे एथलेटिक्स, बैडमिंटन, चैस, कैरम, बालीवॉल व लॉन टेनिस है। इस प्रतियोगिता में प्रदेश के सभी जिलों से करीब 600 खिलाड़ी भाग ले रहे है। उन्होंने कहा कि खेलों के प्रति प्रोत्साहन के लिए इन कर्मचारी खिलाडिय़ों के राष्ट्रीय स्तर पर अच्छा करने पर इंक्रीमैंट देने का प्रावधान किया गया है।
इस अवसर पर जिला प्रशासन के अलावा खेल युवा कार्यक्रम विभाग के अधिकारियों सहित खिलाड़ी एवं कोच भी उपस्थित थे।

Share