फोन करने वाले व्यक्ति ने देवदत्त वर्मा उपरोक्त से 60 लाख रूपये की फिरौती की मांग .

पंचकूला 15.02.2020:- पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बतलाया कि दिनांक 04.02.2020 को श्री देवदत्त वर्मा पुत्र श्री राज वर्मा वासी फलैट न0-001, टावर -2ए, सनसिटी परिक्रमा, सैक्टर-20, पंचकूला जोकि एक बिल्डिंग कन्स्ट्रक्शन का काम करता है। जिसको उनके फोन पर व्हटसैप न0-90795-50026 से व्हटसैप कॉल आई और फोन करने वाले व्यक्ति ने देवदत्त वर्मा उपरोक्त से 60 लाख रूपये की फिरौती की मांग की और फिरौती की रकम ना देने की सूरत में जान से मारने की धमकी दी। जिस पर देवदत्त वर्मा उपरोक्त की शिकायत पर थाना सैक्टर-20 पंचकूला में अभियोग सं0-14, दिनांक 04.02.2020, धाराधीन 384, 387 भा0द0स0, थाना सैक्टर-20, पंचकूला दर्ज रजिस्टर किया जाकर श्री सौरभ सिंह, भा0पु0से0, पुलिस आयुक्त, पंचकूला व श्री कमलदीप गोयल, ह0पु0से0, पुलिस उपायुक्त, पंचकूला के निदेशानुसार अभियोग का अनुसंधान निरीक्षक, कर्मबीर सिंह, इन्चार्ज क्राईम ब्रंाच सैक्टर-19, पंचकूला के नेतृत्व में गठित टीम व साईबर सैल की सहायता से अमल में लाया गया। दौराने अनुसंधान अनुसंधान टीम द्वारा कडी मेहनत से अनुसंधान करते हुए अभियोग में आरोपियान 1. अयाज अली बाउम्र 25 साल पुत्र श्री जफर अली वासी गांव मुबारकपुर, नजीबाबाद, यू0पी0, 2. सचिन बाउम्र 20 साल पुत्र श्री हीरालाल, वासी गांव रासलाला, थाना बिरानी, तहसील बादरा, जिला हनुमानगढ, राजस्थान को जिरकपुर से गिरफ्तार करके पूछताछ की गई, जिन्होने पूछताछ पर बतलाया कि इनकी दिसम्बर 2018 में फेसबुक के माध्यम से दोस्ती हुई थी। जो सोपू ग्रुप को फॉलो करते हैं। अयाज अली पेन्टर का काम करता है, जो पहले 2 साल से मनीमाजरा में रहा था। अयाज अली को पहले से ही जानकारी थी कि
देवदत्त वर्मा बिल्डर का काम करता है और उसके पास काफी पैसा है। अयाज अली ने सचिन को राजस्थान से बुलाया कि उसे कोई काम है और कहा कि अपने साथ किसी लडके को लेकर आना, जिस पर सचिन अपने साथ विशाल उर्फ बिल्लु को साथ लेकर आया और सचिन व अयाज ने षडयन्त्र रचकर विशाल उर्फ बिल्लु से देवदत्त वर्मा बिल्डर को व्हटसैप के माध्यम से फिरौती की कॉल उसकी भाषा में करवाई ताकि किसी को शक ना हो कि फिरौती मांगने वाला कौन है और गुमराह करने की नियत से इन्होने अपने व्हटसैप के प्रोफाईल पर सुक्खा कालहों की फोटो लगाई हुई थी। जो अभी तक की तफ्तीश के दौरान मामले में हैयाज व सचिन उपरोक्त को गिरफतार किया जा चुका है व अन्य की गिरफ्तारी बकाया है। तफतीश जारी है।

Share