Articles Posted in the " Chandigarh " Category


















  • बच्चे राष्ट्र की सम्पत्ति अथवा भविष्य हैं –  श्री अनील कावरानी जी.

    बच्चे राष्ट्र की सम्पत्ति अथवा भविष्य हैं – श्री अनील कावरानी जी.

    बच्चे राष्ट्र की सम्पत्ति अथवा भविष्य हैं –  श्री अनील कावरानी जी.        चण्डीगढ़ 09 जून – आज यहां सन्त निरंकारी सत्संग भवन सैक्टर 3०-ऐ में चण्डीगढ जोन का जोनल स्तरीय निरंकारी बाल सन्त समागम काआयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता दिल्ली प्रचार विभाग से आऐ सैन्टर प्रचारक श्री अनील कावरानी जी ने की । इस बाल समागम में चण्डीगढ जोन की38 ब्रांचों के लगभग 350 बच्चांे ने अलग अलग टोपिक जैसे सम्पुर्ण हरदेव बाणी में से ग्रुप शब्द गायन प्रतियोगिता, सदगुरू बाबा हरदेव सिह की समाजको देन, नशा मुक्त जीवन, सादा शादियां , वृक्षारोपण एवं स्वच्छता अभियान, उŸाम चरित्र व व्यवहार, गीत, कविता, कव्वाली, स्किट आदि के रूप मेंअपने भाव व्यक्त किए।  इस बाल समागम में हजारों की संख्या में बच्चे, महिलाऐं व पुरूष उपस्थित थे। बाल समागम की अध्यक्षता करते हुए सैन्टर प्रचारक श्री अनील कावरानी जी ने कहा कि बच्चे राष्ट्र की सम्पत्ति अथवा भविष्य है।यदि बच्चों का बचपन सेेंही सही मार्गदर्शन किया जाए तो वे बड़े होकर अपने घर व समाज के लिए सुख का साधन और राष्ट्र के लिए एक आदर्श नागरिक बन सकते हैं। श्री कावरानी जी ने आगे कहा कि सत्गुरू माता सविन्दर हरदेव जी महाराज द्वारा इन्सान को परमपिता परमात्मा की जानकारी करवाकर उसके मन सेनफरत, निन्दा, वैर, ईष्र्या, अभिमान निकाल कर बदले में प्यार, करूणा, दया, सहनशीलता, इन्सानियत के भाव भरे जा रहे हैं । इससे पूर्व चण्डीगढ जोन के जोनल इन्चार्ज श्री के0 के0 कश्यप जी ने दिल्ली प्रचार विभाग से आऐ सैन्टर प्रचारक श्री अनील कावरानी जी का तथा बं्राचों सेआऐ संयोजक, मुखी साध सगंत व बच्चों का धन्यवाद किया। और कहा कि इस बाल समागम में बच्चों द्वारा पेश की गई आइटमों से बड़ों को काफी कुछसीखने को मिला। उन्होने बच्चों के प्रयासों की सराहना करते हुए निरंकार और सत्गुरु के चरणो मे उनके उज्वल भविष्य के लिए प्रार्थना की।