दो दिवसीय 11वें अश्विनी गुप्ता मेमोरियल कबड्डी टूर्नामेंट गांव खटोली में 26 व 27 नवंबर को की जायेगी आयोजित-ज्ञानचंद गुप्ता.

पंचकूला, 12 नवंबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष व स्पोर्टस प्रमोशन सोसायटी के चेयरमैन श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि ग्रामीण आंचल के युवाओं को खेलों के प्रति प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से दो दिवसीय 11वें अश्विनी गुप्ता मेमोरियल कबड्डी टूर्नामेंट का आयोजन 26 और 27 नवंबर 2022 को जिला के गांव खटोली में किया जायेगा।
श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने यह जानकारी आज सेक्टर -5 स्थित होटल कोव में एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुये दी।
उन्होंने बताया कि कोविड महामारी के कारण पिछले 3 वर्षों से ग्रामीण आंचल में कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन नहीं करवाया जा सका परंतु अब जब कोविड काल के बाद जीवन सामान्य हो गया है तो गांव खटौली में 11वें अश्विनी गुप्ता मेमोरियल कबड्डी टूर्नामेंट का आयोजन करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गांव के युवाओं की उर्जा को खेलों के प्रति और ज्यादा आकर्षित करने के लिये स्पोर्टस प्रमोशन सोसायटी पंचकूला और अश्विनी गुप्ता मेमोरियल ट्रस्ट के द्वारा इस तरह की प्रतियोगिताओं का आयोजन समय-समय पर करवाया जाता है। उन्होंने बताया कि इस कबड्डी प्रतियोगिता में लगभग 40 टीम भाग लेगी और उनका प्रयास है कि जिला के हर गांव से एक टीम अवश्य भाग लें।
श्री गुप्ता ने बताया कि इस टूर्नामेंट में विजेता टीम को 51 हजार रुपये की नकद राशि इनाम स्वरूप दी जायेगी। इसके अलावा उपविजेता टीम को 31 हजार रुपये और तृतीय स्थान पर आने वाली विजेता टीम को 21 हजार रुपये का नकद इनाम देकर सम्मानित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में बैस्ट कैचर, रैडर और आॅल राउंडर को 3100 रुपये का नकद इनाम दिया जायेगा। विजेता टीम को अश्विनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट की तरफ से कबड्डी कप के रूप में ट्राॅफी देकर सम्मानित किया जायेगा। यह ट्राॅफी विजेता टीम की पंचायत के पास छह महीने तक रहेगी। इस टूर्नामेंट में किसी भी स्कूल की टीम संबंधित स्कूल के प्रिंसीपल की स्वीकृति के बाद ही टूर्नामेंट में हिस्सा ले सकेगी। कबड्डी के मैचो के ड्राॅ टेक्नीकल कमेटी के द्वारा सभी टीमों के कप्तानों की उपस्थित में निकाले जायेंगे। उन्होंने बताया कि टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिये किसी भी टीम के लिये 200 रुपये की एंट्री फीस रखी गई हैं। इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिये 26 नवंबर 2022 तक रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है।
उन्होंने बताया कि यह प्रतियोगिता नैशनल कबड्डी के नियमों के आधार पर होगी। टैक्नीकल कमेटी द्वारा कोई भी फेरबदल परिस्थितियों के अनुसार की जा सकती है। उन्होंने बताया प्रतियोगिता में किसी भी खिलाड़ी की एंट्री आईकार्ड के बिना नहीं होगी। कबड्डी प्रतियोगिता के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी के लिये प्रधान डीपी सोनी, मोबाईल नंबर 9814037533 और महासचिव एनडी शर्मा, 9357531864 मोबाईल नंबर पर संपर्क कर सकते है।
इस अवसर पर स्पोर्टस प्रमोशन सोसायटी के प्रधान डीपी सोनी, महासचिव एनडी शर्मा, पैट्रन बीके सिंगला, विनोद मित्तल, वित्त सचिव विरेंद्र मेहता, बरवाला मंडलाध्यक्ष गौतम राणा, अशोक शर्मा, बहादुर सिंह, हरिपाल राणा, धमिंद्र सिंह, राजसिंह दहिया तथा नरेंद्र राणा सहित सोसायटी के अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

उपायुक्त ने घग्गर नदी में अनुपचारित और उपचारित सीवेज और औद्योगिक वेस्ट से होने वाली दूषित पानी की समस्या के समाधान के लिये आयोजित बैठक की करी अध्यक्षता

-संबंधित विभागों को मंगलवार तक एक्शन प्लान प्रस्तुत करने के दिये निर्देश

-अनुपचारित सीवेज को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से घग्गर नदी में जाने से रोका जाये-उपायुक्त

पंचकूला, 12 नवंबर- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने आज अपने कैंप कार्यालय में घग्गर नदी में अनुपचारित और उपचारित सीवेज और औद्योगिक वेस्ट की वजह से पानी के दूषित होने की समस्या के समाधान के लिये विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की तथा उन्हें घग्गर के पानी को दूषित होने से रोकने के लिये दो दिन में अपने-अपने विभागों से संबंधित एक्शन प्लान मंगलवार तक प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
श्री महावीर कौशिक ने निर्देश दिये कि सभी ऐसे स्थलों की पहचान की जाये जहां से अनुपचारित और उपचारित सीवेज और औद्योगिक वेस्ट नदी में जाता है और उन्हें सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट से जोड़ा जाये।
घग्गर नदी का उद्गम स्थान हिमाचल प्रदेश है और यह जिला पंचकूला से हरियाणा में प्रवेश करती है। अपने बहाव के साथ साथ यह हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ व पंजाब से अनुपचारित और उपचारित सीवेज और औद्योगिक वेस्ट बहाकर लाती है, जिससे पानी दूषित होता है। इसके अलावा घरों से निकलने वाला ठोस कचरा, पशुओं के मल, धार्मिक चीजों के पानी में डालने के कारण भी घग्गर नदी का जल दूषित होता है।
श्री महावीर कौशिक ने हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, नगर निगम, जनस्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग, नगर परिषद कालका और सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अनुपचारित और उपचारित सीवेज, औद्योगिक प्रवाह, घरों से निकलने वाला ठोस व तरल कचरे के निस्तारण के लिये एक कार्य योजना बनाये ताकि इन्हें घग्गर नदी में जाने से रोका जाये और पानी को दूषित होने से बचाया जा सके। उन्होंने निर्देश दिये कि नालों से अनुपचारित सीवेज को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से घग्गर नदी में जाने से रोका जाये और उसे पास लगती सीवर लाईन और सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट जोड़ा जाये। उपायुक्त ने संबंधित विभागों से नदी के कैचमेंट क्षेत्र में स्थापित किये जाने वाले नये सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के बारे में भी जानकारी हासिल की।
उपायुक्त ने कई स्थानों पर घग्गर नदी के साथ साथ ठोस व उद्योगों से निकलने वाले कचरे को फैके जाने की शिकायत का कड़ा संज्ञान लिया और इसे रोकने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि नगर निगम और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के माध्यम से इस कचरे को उठाया जाये और भविष्य में इस प्रकार की घटना ना हो इसके लिये तारबंदी की जाये। उन्होंने घग्गर नदी पर निर्मित पुल से ठोस कचरे को नदी में फैकने से रोकने के लिये स्क्रीन और मैस फेंसिंग लगाने की संभावना तलाशने के भी निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि घग्गर नदी के पानी का उपयोग सिंचाई व अन्य कार्यों में किया जाता है इसलिए घग्गर में प्राथमिकता के आधार पर ठोस, तरल, ओद्यौगिक व अन्य प्रकार के कचरे को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने आवश्यक हैं।
इस अवसर पर हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी वीरेंद्र पूनिया, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कार्यकारी अभियंता एनके पायल, नगर परिषद कालका की कार्यकारी अधिकारी निशा शर्मा, जनस्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग के कार्यकारी अभियंता विकास लाठर, नगर निगम के कार्यकारी अभियंता मनदीप व सिंचाई विभाग के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

राज्य स्तरीय योगासन प्रतियोगिता की तैयारियों की समीक्षा बैठक का आयोजन- डॉ जयदीप आर्य

पंचकूला, 12 नवंबर- हरियाणा योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन की राज्यस्तरीय बैठक का आयोजन ऑनलाइन माध्यम से किया गया, जिसकी अध्यक्षता डॉ जयदीप आर्य जी ने की।
हरियाणा योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन के सचिव श्री सुनील शर्मा ने बताया कि योगासन जिला स्तरीय प्रतियोगिता बहुत ही अच्छे ढंग से सम्पन्न की जा चुकी हैं और अब योगासन की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता 18 नवंबर से 20 नवंबर तक भिवानी जिले में आयोजित की जानी निर्धारित हुई है, जिसके चलते तैयारी प्रगति पर हैं और भिवानी जिला इस बार की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन करवाने के लिए पूर्ण रूप से तैयार है।
हरियाणा योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ जयदीप आर्य ने बताया कि यह गौरव का विषय है कि इस वर्ष पहली बार मास्टर्स योगासन खेल प्रतियोगिता करवाई जाएगी, जिसके अंतर्गत सीनियर ए ( 28-35 वर्ष), सीनियर बी (35-45 वर्ष) – सीनियर सी (46-55 वर्ष) आयु वर्ग सम्मिलित किए गए हैं, जिसमें ट्रेडिशनल योगासन की प्रतियोगिता राज्य स्तर पर करवाई जाएगी ।
उन्होंने बताया कि राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के चयन के लिये प्रत्येक जिले में सलैक्शन ट्राॅयल 16 नवंबर तक करवाए जाने निर्धारित किए गए हैं। जिला भिवानी में संयोजन का दायित्व जिला अध्यक्ष बाबा राजनाथ को सौंपा गया । उनके द्वारा सभी जिलों के ऑफिशियल्स और खिलाड़ियों को भिवानी में आने के लिए आमंत्रित किया गया । श्री उमेश नारंग को प्रतियोगिता प्रबंधक के रूप में नियुक्त किया गया।

राजकीय महाविद्यालय कालका में उद्यमिता विकास प्रकोष्ठ की ओर से कार्यशाला और परामर्श सत्र का किया गया आयोजन

पंचकूला, 12 नवंबर- राजकीय महाविद्यालय कालका के कार्यवाहक प्राचार्य श्री सुशील कुमार के कुशल नेतृत्व में उद्यमिता विकास प्रकोष्ठ की ओर से कार्यशाला और परामर्श सत्र का आयोजन किया गया।
प्रस्तुत कार्यक्रम में विद्यार्थियों के लिए स्टार्टअप की तरफ से कार्यशाला का आयोजन किया गया । कार्यक्रम में विभिन्न गतिविधियां की गई और विद्यार्थियों ने रुचिपूर्वक बहुत कुछ सीखा।
मुख्य वक्ता श्रीमती तनुश्री (सेंटर हेड स्टार्टअप इनक्यूबेटर पंचकूला) और श्री विनीत खुराना( एस ए सी सी) रहे। मुख्य अतिथि श्री पंकज आउटरीच समन्वयक रहे। प्रस्तुत कार्यक्रम उद्यमिता विकास प्रकोष्ठ के प्रभारी प्रोफेसर सुरेश कुमार और सदस्य डॉ राजीव, प्रोफेसर नीतु, प्रोफेसर शीतल मंगला, डॉक्टर सरिता और प्रोफेसर अनु के मार्गदर्शन और दिशा निर्देशन में किया गया।

Share