उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह ने त्यौहारों के सीजन के दृष्टिगत घर से बाहर जाते हुए कोविड दिशा-निर्देशों का दृढता से पालन करने की लोगों से की अपील.

पंचकूला, 27 सितंबर- उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि त्यौहारों के सीजन के दृष्टिगत तथा कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका को ध्यान में रखते हुए घर से बाहर जाते हुए केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी कोविड दिशा-निर्देशों का दृढता से पालन करें। ऐसा करने से कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर को आने से रोका जा सकता है।
उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में त्यौहारों का बहुत महत्व है और लोग इन्हें पूर्ण श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाते हैं। लेकिन कोरोना वायरस के दृष्टिगत हमें त्यौहारों को मनाने के साथ-साथ अपने स्वास्थ्य का भी उचित ध्यान रखना होगा। त्यौहारों को अपने घर पर ही मनाएं, कहीं बाहर न जाएं। यदि बाहर जाना पड़ता है तो घर से बाहर जाते समय मास्क, सैनिटाईजर तथा उचित सामाजिक दूरी का पालन अवश्य करें। अपने जीवन में इन सरल आदतों को शामिल करके ही हम कोरोना वायरस जैसी जानलेवा बीमारी से अपने आप को सुरक्षित रख सकते हैं।
उन्होंने कहा कि कोविड-19 एक संक्रामक बीमारी है जो एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलती है। इसलिए त्यौहारों के दौरान लोगों के संपर्क में आने से बचें तथा उचित सामाजिक दूरी का पालन करें। इसके अलावा मास्क व सैनीटाईजर का निरंतर प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने अभी तक कोविड वैक्सीन की डोज नहीं लगवाई है, वे शीघ्र ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित किए जा रहे कोविड वैक्सीन शिविरों में जाकर अपना वैक्सीनेशन करवाएं। इससे न केवल रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होगी, साथ ही कोरोना वायरस जैसी भयंकर बीमारी से लड़ने में भी ताकत मिलेगी।
उन्होंने जिला के दुकानदारोंध्शोरूम मालिको से अपील करते हुए कहा कि वे अपनी दुकानोंध्शोरूम इत्यादि में मास्क व सामाजिक दूरी का पालन करवाना सुनिश्चित करें। बिना मास्क के प्रवेश निषेध किया जाये व सरकार द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित करवाई जाये। इससे न केवल वे स्वयं बल्कि उनके पास आने वाले लोग भी सुरक्षित रहेंगे।
उन्होंने लोगों से यह भी आग्रह किया कि त्यौहारों के सीजन के दृष्टिगत जगह-जगह लगने वाले मेलों, आयोजनों जैसे भीड-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से परहेज करें और यदि वहां जाएं तो उचित सामाजिक दूरी की पालना करते हुए मास्क व सैनीटाईजर का प्रयोग करें। 
जिला नगर योजनाकार कार्यालय ने अगस्त और सितंबर में पेरीफेरी नियंत्रित क्षेत्र पिंजौर-कालका और बरवाला में अवैध निर्माण के खिलाफ की बड़ी कार्यवाही
– कार्यवाही के दौरान 38 डीपीसी, 7 दुकानों व 2 भवनों को किया गया सील व ध्वस्त-जिला नगर योजनाकार प्रियम भारद्वाज
– बिना किसी सरकारी अनुमति के अवैध निर्माण कार्य विकसित करने वाले भू-मालिकों, प्रॉपर्टी डीलरों के खिलाफ की जायेगी सख्त कानूनी कार्यवाही-प्रियम भारद्वाज

पंचकूला, 27 सितंबर- उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह के निर्देशानुसार जिला नगर योजनाकार कार्यालय द्वारा अगस्त और सितंबर माह में पेरीफेरी नियंत्रित क्षेत्र पिंजौर-कालका और बरवाला में अवैध निर्माण के खिलाफ कार्यवाही करते हुए 38 डीपीसी, 7 दुकानों व 2 भवनों को सील व ध्वस्त किया गया। इसके अलावा अवैध रूप से निर्मित व निर्माणाधीन अन्य भवनों व ढांचों को गिराया तथा सील किया गया।
इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला नगर योजनाकार श्रीमती प्रियम भारद्वाज ने बताया कि यह कार्यवाही उनकी देख-रेख में पुलिस विभाग के सहयोग से की गई। उन्होंने बताया कि तोड़-फोड़ की कार्यवाही के दौरान होने वाले विरोध को शांतिपूर्वक ढंग से रोकने व तोड़-फोड़ की कार्यवाही को सुचारू रूप से पूर्ण करने के लिए एक विशेष पुलिस टीम का गठन किया गया है।
अगस्त व सितंबर माह में अवैध निर्माण के विरूद्ध की गई कार्यवाही का विवरण देते हुए श्रीमती प्रियम भारद्वाज ने बताया कि पेरीफेरी नियंत्रित क्षेत्र पिंजौर में कार्यवाही करते हुए नगर योजनाकार विभाग द्वारा 10 डीपीसी, 3 अस्थाई ढांचे, 4 ढांचों (दो दुकानें, 1 होटल व 1 क्लब) को सील किया गया। इसीके अलावा नियंत्रित क्षेत्र बरवाला में 13 डीपीसी और 1 ढांचे को ध्वस्त किया गया।
उन्होंने बताया कि पेरीफेरी नियंत्रित क्षेत्र पिंजौर-कालका के गांव सीतो माजरा, मढांवाला, करनपुर, गरीड़ां में कार्यवाही करते हुए दो कालोनियों में 8 डीपीसी, 1 बाउंड्री वाॅल व 1 अस्थाई शेड को गिराया गया। इसी प्रकार से गांव बनोई खुदाबक्श में 1 शोरूम व 4 दुकानों को ध्वस्त किया गया। उन्होंने बताया कि इसी क्षेत्र में गांव मंधाना (भोज मटोर) में दो व्यवसायिक ढांचे व 1 निर्माणाधीन भवन को गिराया गया। इसके अलावा गांव सीतोमाजरा, झोलूवाल में 7 डीपीसी, 1 बाउंड्री वाॅल व एक निर्माणाधीन भवन को ध्वस्त किया गया तथा 1 दुकान को सील किया गया।
श्रीमती प्रियम भारद्वाज ने बताया कि नियंत्रित क्षेत्र तथा अर्बन एरिया में कोई भी निर्माण कार्य करने के लिए विभाग की पूर्व अनुमति लेनी आवश्यक है। कोई भी अवैध निर्माण करने से पहले निदेशक, नगर तथा ग्राम आयोजना विभाग, हरियाणा, चंडीगढ़ द्वारा विभागीय अनुमति लेना आवश्यक है।
उन्होंने बताया कि उपरोक्त अवैध निर्माण भू-मालिकों द्वारा पॉपर्टी डीलरों के साथ मिलकर बिना किसी सरकारी अनुमति के विकसित किया जा रहा था। ऐसे भू-मालिकों, प्रॉपर्टी डीलरों तथा अवैध निर्माण करने वालों के खिलाफ अर्बन एरिया एक्ट-1975, पैरिफेरी नियंत्रित क्षेत्र- 1952 तथा नियंत्रित क्षेत्र 1963 के तहत विभाग सख्त कानूनी कार्यवाही की जायगी तथा संबंधित व्यक्तियों के खिलाफ एफ. आई. आर. दर्ज भी करवाई जायेगी, जिसमें तीन साल कारावास तथा जुर्माने का प्रावधान है।
उन्होंने कहा कि विभाग से सी.एल.यु की अनुमति लिए बिना किसी भी प्रकार के छोटे या बड़े निर्माण न करें, ताकि लोगों की कड़ी मेहनत का पैसा बर्बाद न हो और अनाधिकृत अवैध निर्माणों पर रोक लग सके। 
‘जीएसटी भवन’ में कल सायं 4 बजे हिन्दी पखवाड़ा के समापन समारोह में एक कवि सम्मेलन का किया जायेगा आयोजन
-सीजीएसटी पंचकूला जोन के मुख्य आयुक्त श्री राजेश सोढ़ी करेंगे सम्मेलन की अध्यक्षता

पंचकूला, 27 सितंबर- केन्द्रीय वस्तु और सेवा कर क्षेत्र पंचकूला के सैक्टर 25 स्थित कार्यालय ‘जीएसटी भवन’ में कल 28 सितंबर को सायं 4 बजे हिन्दी पखवाड़ा के समापन समारोह में एक कवि सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा।
इस संबंध में जानकारी देते हुए जीएसटी कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि सीजीएसटी पंचकूला जोन के मुख्य आयुक्त श्री राजेश सोढ़ी इस सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे।
उन्होंने बताया कि कवि सम्मेलन में जाने माने कवि भाग लेंगे और जीएसटी भवन स्थित सभी कार्यालयों के अधिकारी उपस्थित रहेंगे।

बाल बहादुरी पुरस्कार-2021 के लिए आवेदन आमंत्रित-उपायुक्त विनय प्रताप सिंह
-10 अक्तूबर तक किए जा सकते हैं आवेदन-उपायुक्त
पंचकूला, 27 सितंबर- हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद्, चण्डीगढ तथा जिला बाल कल्याण परिषद्, पंचकूला के माध्यम से भारतीय बाल कल्याण परिषद्, नई दिल्ली द्वारा राष्ट्रीय बाल बहादुरी पुरस्कार-2021 प्रदान किया जायेगा, जिसके लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 10 अक्टूबर निर्धारित की गई है।
इस संबंध में जानकारी देते हुए पंचकूला के उपायुक्त एवं जिला बाल कल्याण परिषद के प्रधान श्री विनय प्रताप सिंह ने बताया कि ऐसे बच्चे जिन्होंने 1 जुलाई 2020 से 30 सितम्बर, 2021 के दौरान कोई भी साहसपूर्ण व बहादुरी का कार्य किया हो, विषेशकर किसी की जान अपनी जान पर खेल कर बचाई हो और जिनकी उम्र घटना के दिन 6 वर्ष से 18 वर्ष के बीच हो, अपना आवेदन जिला बाल कल्याण परिषद् के कार्यालय, बेज नंबर 19, सेक्टर 14, पंचकूला में जमा करवा सकते हैं।
उन्होंने बताया कि आवेदन पत्र का प्रारुप www.iccw.co.in से प्राप्त किया जा सकता है। आवेदन पत्र तथा अन्य शत्र्तो हेतू कार्यालय या ई मेल balbhawanpkl14@gmail.com पर भी सम्पर्क किया जा सकता है। इस संबंध में किसी भी प्रकार की जानकारी हेतु दूरभाष नबर 0172-2586554 तथा मोबाइल नंबर 9876025299 पर संपर्क किया जा सकता है।

अनुसूचित जाति के किसानों को अनुदान पर मिलेंगे कृषि यंत्र

पंचकूला, 27 सितंबर- कृषि विभाग हरियाणा द्वारा अनुसूचित जाति के किसानों को कृषि यंत्रों पर अनुदान देने के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इसके लिए विभागीय पोर्टल पर 30 सितंबर तक आनलाईन आवेदन किया जा सकता है।
सहायक कृषि अभियंता श्री राजीव गोयल ने बताया कि इच्छुक किसान बैटरी संचालित स्प्रे पंप (लागत का 50 प्रतिशत या 2500 रूपये जो भी कम हो) के लिए आवेदन कर सकते हंै। बैटरी संचालित स्प्रे पंप के लिए 7 का लक्ष्य निर्घारित किया गया है। लाभार्थियों का चयन पहले आओ पहले पाओ के आधार पर किया जाएगा। इच्छुक किसान आवेदन पत्र के साथ जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड की काॅपी, पैन कार्ड, बैंक पास बुक व जी0एस0टी0 नम्बर सहित बिल की प्रति साथ संलग्न करें।

Share