हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने पुलिस विभाग के आल्हा अधिकारियों के साथ की बैठक

पंचकूला, 21 सितंबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज सेक्टर 1 स्थित पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में पुलिस विभाग के आल्हा अधिकारियों के साथ बैठक की व हाल ही में सेक्टर 8 स्थित मां लक्ष्मी जवैलर्स में लूट की वारदात के संबंध में पुलिस द्वारा की जा रही कार्यवाही के बारे में विस्तार से जानकारी ली। साथ ही भविष्य में इस तरह की घटनाएं न हों, इसके लिए पुलिस विभाग को एक कारगर रणनीति बनाने के निर्देश भी दिये।
बैठक में पुलिस आयुक्त श्री सौरभ सिंह, पुलिस उपायुक्त श्री मोहित हांडा, कष्ट निवारण समिति के गैर सरकारी सदस्य श्री बी.बी. सिंघल व पंचकूला जवैलर्स ऐसोसिएशन के पदाधिकारी उपस्थित थे।
इस बैठक का आयोजन विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता की पहल पर किया गया, जिसमें पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ पंचकूला जवैलर्स ऐसोसिएशन के पदाधिकारियों से इस समस्या के स्थाई समाधान को लेकर सुझाव आमंत्रित किए गए।
श्री गुप्ता ने कहा कि पंचकूला जैसे शांतिपूर्ण शहर में दिन के उजाले में इस तरह का घटनाक्रम एक गंभीर मामला है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि शीघ्र ही वारदात मे सम्मिलित सभी आरोपियों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि वारदात के दौरान जानमाल का भारी नुक्सान हो सकता था परंतु मां लक्ष्मी जवैलर्स के मालिक श्री संदीप वर्मा ने साहस का परिचय देते हुए जिस प्रकार से आरोपियों के मंसूबों को विफल किया है, वह सराहनीय है।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि पुलिस का मुख्य कार्य लोगों में सुरक्षा की भावना पैदा करना है ताकि वे बिना किसी डर के कहीं भी आ-जा सकें। इस दिशा मे पुलिस का बीट बाॅक्स कंसेप्ट काफी कारगर सिद्ध हो सकता है। श्री गुप्ता ने पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि पंचकूला के प्रत्येक मार्किट में एक-एक बीट बाॅक्स स्थापित किया जाये तथा प्रत्येक बीट बाॅक्स पर दो-दो पुलिस कर्मचारियों की डयूटी लगाई जाये और उनके बैठने का समय भी निर्धारित किया जाये। बीट बाॅक्स के स्थापित होने से सेक्टर वासियों विशेषकर वरिष्ठ नागरिकों को इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि बहुत से लोग पुलिस थाने में नहीं जा पाते। बीट बाॅक्स के स्थापित होने से ऐसे लोग बिना किसी हिचक के कोई भी जानकारी वहां दे सकेंगे।
श्री गुप्ता ने कहा कि व्यक्तिगत सुरक्षा के लिए आर्मज लाईसेंस आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जवैलर्स को खतरे की आशंका को देखते हुए समयबद्ध तरीके से आर्मज लाईसेंस दिये जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारी ये सुनिश्चित करें कि आर्मज लाईसेंस के दिशा-निर्देशों के अनुसार आवेदन करने पर व आवश्यक दस्तावेज जमा करवाने के पश्चात आवेदकों को एक तय समयावधि में लाईसेंस जारी किए जाएं। साथ ही आर्मज लाईसेंस के आवेदन की प्रक्रिया को और सरल बनाया जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस यह भी सुनिश्चित करे कि बैंकों द्वारा एटीएम मशीनों पर सुरक्षा गार्ड की व्यवस्था हो और इस संबंध में पुलिस द्वारा सभी बैंकों को निर्देश जारी किए जायें।
विधानसभा अध्यक्ष ने जवैलर्स ऐसोसिएशन के पदाधिकारियों से अपील की कि वे संबंधित मार्किट ऐसोसिएशन की ओर से एंटरी व एग्जिट प्वाइंट पर हाई रेजोल्यूशन के सीसीटीवी कैमरे लगवाने की व्यवस्था करें। उन्होंने कहा कि जहां-जहां सीसीटीवी कैमरे पहले से ही लगे हैं वहां सुनिश्चित करें कि वह क्रियाशील हैं।
बैठक में श्री गुप्ता ने पुलिस विभाग को पब्लिक-पुलिस कोओर्डिनेशन कमेटी के गठन के कार्य में तेजी जाने के निर्देश दिये। श्री गुप्ता ने कहा कि इस कमेटी का गठन पहले जिला स्तर पर तथा फिर थाना स्तर पर किया जाना है। उन्होंने कहा कि 21 सदस्यीय कमेटी में पार्षद, दुकानदार, रेजिडेंट वैलफेयर ऐसोसिएशन के पदाधिकारियों सहित विभिन्न क्षेत्रों के संबंधित लोगों को शामिल किया जायेगा। इस समिति का मुख्य उद्देश्य लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास को बढाना है।
पुलिस आयुक्त श्री सौरभ सिंह ने श्री गुप्ता को अवगत करवाया कि आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस की अलग-अलग टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में पुलिस के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं और उन्हें विश्वास है कि शीघ्र ही सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।
जवैलर्स ऐसोसिएशन के प्रधान श्री दीप कृष्ण चैहान ने इस बैठक के आयोजन के लिए विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि श्री गुप्ता हमेशा से ही उनके सुरक्षा को लेकर गंभीर रहते हैं और उनका साथ उन्हें सदैव मिला है।
इस अवसर पर पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी व पंचकूला जवैलर्स ऐसोसिएशन के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Share