दिल्ली जा रहे किसानों पर आंसू गैस के गोले छोडने व किसानों पर झूठे केस बनाना निंदनीय है – बजरंग गर्ग

पंचकुला -26/11/20, अखिल भारतीय व्यापार मंडल के राष्ट्रीय महासचिव व हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने किसान नेताओं से बातचीत करने के उपरांत कहा कि सरकार के आदेशों से जो किसान दिल्ली जा रहे थे उन पर पुलिस द्वारा आंसू गैस के गोले छोडने व इस कोरोना महामारी में पानी के टैंकरों द्वारा पानी की बौछार करने व सैकड़ों किसान नेताओं को गिरफ्तार करने की कड़े शब्दों में निंदा की है। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने कहा कि दिल्ली जा रहे किसानों को पुलिस द्वारा कल से रोकने व किसान पर झूठे मुकदमे बनाना सरकार द्वारा किसानों पर दमनकारी कार्रवाई की जा रही है जो अंग्रेजी शासन की याद दिलाता है। तीन कृषि कानून का किसानों द्वारा भारी विरोध को देखते हुए सरकार बौखलाहट में किसानों की आवाज दबाने में लगी हुई है। देश व प्रदेश का किसान सरकार के षड्यंत्र को पहचान चुका है। कृषि कानून के विरोध में किसानों का आंदोलन लंबे समय से चल रहा है। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने कहा कि तीन कृषि कानून केंद्र सरकार द्वारा अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने के लिए बनाई गई है। इस कृषि कानून से देश व प्रदेश का किसान, आढ़ती व मजदूरों को बड़ा भारी नुकसान होगा। इन काले कानून का विरोध हरियाणा के साथ-साथ पूरे देश में हो रहा है। सरकार इन काले कानून को वापस लेने की बजाए किसानों पर लाठीचार्ज करके झूठे मुकदमे बनाकर आंदोलन को दबाने की नाकाम कोशिशों में लगी हुई है जबकि देश का किसान, आढ़ती व मजदूर झूठे मुकदमे व लाठियों से डरने वाला नहीं है। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने कहा कि दिल्ली के आंदोलन में हिस्सा लेने जा रहे किसानों को रोकने के लिए देश व प्रदेश में चारों तरफ बॉर्डर सील करने से यह साफ सिद्ध हो जाता है की सरकार किसान आंदोलन से डरी हुई है। आंदोलन को कुचलने के लिए प्रदेश में कई जिलों में धारा 144 लागू करके किसानों को नाजायज तंग किया जा रहा है जबकि लोकतंत्र में हर व्यक्ति को अपनी बात रखने के लिए शांतिपूर्वक आंदोलन करने का अधिकार है मगर यह सरकार बार-बार किसान, आढ़ती, कर्मचारी, मजदूर व आम जनता की आवाज बंद करने के लिए ओछे हथकंडे अपनाने में लगी हुई है। जिसे किसी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। जब तक केंद्र सरकार तीन कृषि कालें कानून को वापस नहीं लेती तब तक देश व प्रदेश के किसान, आढ़ती व मजदूरों का आंदोलन प्रदेश में जारी रहेगा। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वह देश व प्रदेश के किसान, आढ़ती व मजदूरों के हित में तीन कृषि काले कानून को तुरंत प्रभाव से वापस ले और केंद्र सरकार किसान की हर फसल एमएसपी रेटों में मंडी के आढ़तियों के माध्यम से खरीद करने का कानून बनाए ताकि देश व प्रदेश का किसान, आढ़ती व मजदूर बर्बाद होने से बच सकें।

Share