जिले के गांव सकेतड़ी में आज. हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने 3 करोड़ रुपये से बनने वाले तीन ट्यूब्वलों की बोरिंग का काम हवन एवं जलाभिषेक करके इसका शुभारंभ.

पंचकूला, 23 नवंबर- जिले के गांव सकेतड़ी में आज हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने 3 करोड़ रुपये से बनने वाले तीन ट्यूब्वलों की बोरिंग का काम हवन एवं जलाभिषेक करके इसका शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि इस कार्य से साकेतड़ी के लोगों की पीने के पानी की समस्या का निदान हो जायेगा। उन्होंने बताया कि जल बिना जीवन अधूरा है। जल बिना जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती। पीने के लिये साफ पानी उपलब्ध करवाना सरकार की प्राथमिकता है। केंद्र व हरियाणा सरकार की योजना हर घर में जल व हर घर में नल को धरातल पर लाकर हर घर तक जल पंहुचाना हरियाणा सरकार की प्राथमिकता भी है।
नगर निगम के एक्शन अंकित ने बताया कि इस कार्य को पूरा होने में लगभग चार महीने का समय लगेगा। इन तीनो बोरिंग से लोगों को चार महीने बाद पीने का पानी मुहैया करवाया जा सकेगा। इस प्रोजैक्ट में 700 किलोलीटर का क्लीयर वाॅटर रिजर्वर भी बनेगा और पानी को साकेतड़ी के लोगों तक पंहुचाने के लिये पांच किलोमीटर लंबी पाईप लाईन भी बिछाई जायेगी। तीन करोड़ से बनने वाले इस प्रोजैक्ट को हम प्राथमिकता के आधार पर तैयार करवायेंगे।
इस अवसर पर नगर निगम के संयुक्त आयुक्त संयम गर्ग, एक्शन अंकित, भाजपा के जिला प्रधान अजय शर्मा, पूर्व जिला प्रधान दीपक शर्मा, पंकज सूद एवं अन्य भाजपा के नेता मौजूद थे।

पंचकूला, 23 नवंबर- परिवार पहचान पत्र को लेकर लघु सचिवालय के सभागार में रिव्यू बैठक हुई। इस संयुक्त बैठक की अध्यक्षता आईसीएएस क्रीड सोफिया दहिया ने और मुख्यमंत्री के सलाहाकार मोहित सोनी ने की। परिवार पहचान पत्र को लेकर सोफिया दहिया ने अधिकारियों को जिले की पब्लिक से पकड़ मजबूत करना का और काम में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल का यह ड्रीम प्रोजैक्ट हैं, सीएम इस प्रोजैक्ट की स्वयं मोनेटरिंग कर रहे है। उनका उद्देश्य पब्लिक को सरल व पारदर्शी सिस्टम देना है ताकि जनता को अधिकारियों व कार्यालयों के चक्कर काटने की बजाय उनका कार्य आसानी से हो जाये।
उन्होंने अधिकारियों को कहा कि अतिरिक्त उपायुक्त ने मुख्यमंत्री जी को काम पूरा होने का 30 दिसंबर तक का समय दिया हैं और आज जिले में पीपीपी को लेकर ज्यादा प्रोग्रेस नजर नहीं आ रही है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को जिला की जनता से जुड़ने और उन्हें पीपीपी के बारे में बताने की जरूरत है ताकि जनता पीपीपी को समझकर अपने आप ही परिवार पहचान पत्र को बनाने के लिये आगे आये। इसके लिये चाहे आॅप्रेटर की संख्या बढ़ाये या सक्षम युवा को इस कार्य में लगाये और इस काम में तेजी लाये ताकि ज्यादा से ज्यादा जिले की जनता अपने पीपीपी बनवाये। जिला योजना अधिकारी सुनील जाखड़ ने बताया परिवार पहचान पत्र काम में कोताई करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
बैठक में नगर निगम, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला एलीमैंटरी अधिकारी, फूड सप्लाई, जिला इंफोरमैंशन अधिकारी, ब्लाॅक विकास एवं पंचायत आॅफिसर पिंजौर, बरवाला, रायपुररानी और बीईओ मोरनी, डीएसईओ पंचकूला ने भाग लिया।

Share