प्रदेश में कानून व्यवस्था खराब, और सरकार चिंतन शिवर केनाम पर दो दिन की छुथ्ट्टयां मनाने टिंबर ट्रेल गई: योगेश्वर शर्मा.

पंचकूला,16 दिसंबर। एक ओर तो पंचकूला सहित पूरे हरियाणा में अपराध का ग्राफ दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है,तो वहीं दूसरी ओर हरियाणा की खट्टर सरकार प्रदेश से बाहर चिंतन शिविर के नाम पर टिंबर ट्रेल में पैसे की बर्बादी कर रही है। पार्टी का कहना है कि पूरी भाजपा सरकार चिंतन शिविर के नाम पर दो दिन की सर्दी की छुट्टियां मनाने गई है। अफसर न बोले इस लिए उन्हें भी साथ ले जाया गया है। पार्टी का कहना है कि सरकार को सबसे पहले तो अपने तीन साल में बढ़े अपराध पर चिंतन करना चाहिए और यह सोचना चाहिए कि राज्य में महिलाओं और बेटियों को कैसे सुरक्षित किया जा सके। इसके आलावा भी अन्य अपराधों पर भी कैसे लगाम लगाई जाए यह आज चिंता का विष्य है और यह चिंता चंडीगढ़ में भी की जा सकती थी। पार्टी ने कहा कि अगर सरकार का मन ज्यादा ही ठंड लेने का हो रहा था तो यह शिविर  मोरनी में भी लगाया जा सकता था। कम से कम हरियाणा का पैसा हरियाणा में तो लगता।
आम आदमी पार्टी के जिला प्रधान योगेश्वर शर्मा ने यहां जारी एक ब्यान में कहा कि यह सरकार पूरी तरह से ड्रामेबाजों की सरकार है। जोकि नित नये नये ड्रामे करती है। जबकि इसकी कार्यप्रणाली का कोई ठोस परिणाम आजतक सामने नहीं निकल कर आया। यही स्थिति इस चिंतन शिविर की भी होने वाली है। यह सरकार प्रदेश का करोड़ों रुपये बाहाकर अपनी दो दिन की छुट्टियां काट कर वापिस आ जाएगी। पंचकूला में कानून व्यवस्था है ही नहीं। मनसा देवी थाना क्षेत्र के अधीन आए दिन कोई ना कोई हत्या, लूट, चोरी, डकैती की घटनाएं हो रही हैं। पुलिस की सही गश्त ना होने के चलते अब तक पिछले एक साल में 5 लोगों की हत्या हो चुकी हैं, लेकिन पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी हुई है। शर्मा ने कहा कि यह पुलिस की नाकामी ही है कि बुधवार शाम को एक युवक की हत्या हो गई। यदि पुलिस की सही गश्त होती, तो यह घटना हो ही नहीं सकती थी। युवक को बचाया जा सकता था। उन्होंने कहा कि पुलिस को नियमित तौर पर गश्त करनी चाहिए, ताकि अपराधिक तत्वों पर नकेल कसी जा सके। योगेश्वर शर्मा ने कहा कि पुलिस पहली घटना को सुलझा नहीं पाती कि दूसरी हो जाती है। कारण साफ है कि अपराधियों के मन में पुलिस को लेकर कोई भय नहीं है। हां लोग खासकर बच्चे पुलिस से चलान न कटे इसी बात को लेकर जरुर डरते हैं। और पुलिस का बस एक यही काम रह गया है जिसे वह पूरे जोरों से करती है।
उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन अपने काम में पूरी तरह से नाकाम है।
Share