256 श्रद्धालुओं ने रक्तदान किया जिसमें 20 महिलाऐं.

 

चंडीगढ़, 10 दिसंबर 2017ः सन्त निरंकारी चेरिटेबल फाउंडेशन ने  चंडीगढ़ जोन के 15 वें रक्तदान शिविर का आयोजन सन्त निरंकारी सत्संग भवन सैक्टर 15 डी में किया गया। इस कैम्प में सैक्टर 15 व सैक्टर 40 एरिया की साधसंगत व सेवादल के स्वंयसेविकों ने भरपुर योगदान दिया। इस शिविर में 256 श्रद्धालुओं ने रक्तदान किया जिसमें 20 महिलाओं ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

इस रक्तदान शिविर का उद्घाटन डा0 नीलम मरवाहा, प्रध्यापक एंव अध्यक्ष, रक्तदान औषधी विभाग, पी0 जी0 आई0 चंडीगढ़ और चंडीगढ़ जोन के जोनल इंचार्ज  श्री के0 के0 कश्यप जी की पत्नी श्रीमति सीता कश्यप जी ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर डा0 मरवाहा ने कहा कि खुनदान एक महान कार्य है इसे रक्तदाता व परमात्मा जानता है कि यह सबसे उत्तम दान है। सन्त निरंकारी मिशन का विश्व के सामाजिक कार्यों में महत्वपूर्ण स्थान रहा है। मिशन के अनुयाई  निष्काम सेवा व सामाजिक कार्यों द्वारा समाज में भरपूर योगदान देकर एक उदाहरण प्रस्तुत कर रहे है।

श्री कश्यप जी ने कहा कि सन्त निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन द्वारा इस वर्ष 2017-18 में चंडीगढ़ जोन में 18 रक्तदान शिाविर लगाये जाए जा रहे है उसी लडी में  आज यह 14 वां रक्तदान शिाविर लगाया गया  है। उन्होंने आगे कहा कि बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के संदेश “खून नालियों में नहीं नाडि़यों में बहना चाहिए“ को सार्थक रूप देते हुए और इसी लड़ी को आगे बढ़ाते हुए वर्तमान सतगुरू माता संविदर हरदेव जी महाराज भी संसार में शांति, भाईचारा व एकत्व स्थापित कर रहे हैं। सत्गुरू माता जी मानव को ईश्वर की जानकारी करवा कर एक दूसरे से जोड़ने को कार्य कर रहे है।

इस शिविर का संचालन  पी0 जी0 आई बल्ड बैंक के प्रोफेसर डॉ सुचेत सचदेव की अगुवाई में 20 डॉक्टर व पेरामेडिकल स्टाफ की सहायता से किया गया।

रक्तदान शिाविर  में  श्री के0 के0 कश्यप जी, जोनल इंचार्ज, क्षेत्रीय संचालक श्री आत्मप्रकारश जी ,संयोजक श्री नवनीत पाठक जी और श्री एस0 एस0 बंगा जी, मुखी,  सैक्टर 15,  व श्री पवन कुमार जी सैक्टर 40 एरिया इंचार्ज और श्री तरसेम लाल जी भी उपस्थित थे।

मुखी एस0 एस0 बंगा जी ने डॉक्टरों की टीम व रक्तदाताओं का धन्यवाद किया।

Share