भाजपा किसान के उत्थान के लिये प्रगतिशील योजनाए लागु कर रही है -रामदयाल नेगी.

पचंकुला – 28 नवम्बर 2017, भाजपा किसान मोर्चा जिला पचंकुला कार्यकारिणी की बैठक प्रदेश भाजपा कार्यलय पचंकुला मे हुई जिसकी अध्यक्षता मोर्चा अध्यक्ष रामदयाल नेगी ने की ! बैठक मे मुख्यरुप से मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष समय सिंह भाटी रहे ! उनके साथ पार्टी जिला अध्यक्ष दीपक शर्मा ,मोर्चा के प्रदेश महामन्त्री राजकुमार सैनी ,प्रदेश मिडिया प्रभारी गुरदेव वधवा ,सहमिडिया प्रभारी मौहित कौशिक भी रहे ! समय सिंह भाटी ने कार्यकर्ताओ को सम्बौधित करते हुए कहा कि वास्तव मे भाजपा ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो किसान की भलाई के लिये काम करती है ! भाजपा किसान के उत्थान के लिये प्रगतिशील योजनाए लागु कर रही है ! भाजपा ग्रामीण क्षेत्र के साथ साथ शहरी क्षेत्र के किसानो को भी खेती करने के लिये प्रोत्साहन करने की योजनाए लागु कर रही है ! भाटी ने कहा कि शहर के चारों तरफ़ शहर की ज़रूरत के अनुसार खेती हो, इस बात को हरियाणा के किसानों को समझाने के लिए प्रदेश के कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा “पैरी अर्बन एगरीकलचर”  विषय पर गुरुग्राम में दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन 29 व 30 नवंबर को किया जा रहा है। इस कार्यशाला का आयोजन गुरुग्राम की सैक्टर  44 स्थित अपेरल  हाउस  में किया जाएगा जिसमें कृषि, बाग़वानी, पशुपालन, दुग्ध उत्पादन, मछली व मुर्गीपालन तथा इनकी ताज़ा अवस्था में आपूर्ति एवं स्थानीय ब्रांडिंग से मार्केटिंग  आदि से जुड़े विषयों पर मंथन होगा I कार्यशाला में  हरियाणा व अन्य राज्यों के  अग्रणी किसान अपना अनुभव साँझा करेंगे I केंद्रीय  कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधामोहन सिंह इस कार्यशाला के पहले दिन मुख्य अतिथि के तौर पर पधारगे I भाटी ने कहा कि प्रदेश के  किसानो  की आमदनी कैसे बढ़े, इसके लिए चिंतित रहने वाले और इस दिशा में  निरंतर प्रयासरत हरियाणा की कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के  मंत्री श्री ओमप्रकाश धनखड़ का सोच है कि किसानों को अपने खेत में ऐसी फ़सल उत्पन्न करनी चाहिए जो जल्दी ख़राब होने वाली हो और जो महँगी हो I  उन्होंने कहा कि हरियाणा दिल्ली को तीन तरफ़ से घेरता है इसलिए दिल्ली के चारों तरफ़  ऐसी फसलों की बिजाई करनी चाहिए जिससे दिल्ली की प्रतिदिन की ज़रूरतें पूरी हो Iउन्होंने कहा कि हरियाणा प्रतिदिन दिल्ली  को ताज़ा दूध, अंडे, ताज़ा फूल, जीवित मछली आदि उत्पाद फ्रैश  उपलब्ध करवा सकता है। इसके लिए हरियाणा की भोगोलिक  स्थिति तो फ़ायदेमंद है ही, साथ में यहाँ  पर इंफ्रास्ट्रक्चर  भी उपलब्ध है और हरियाणा का  किसान नई व आधुनिक तकनीक को तेज़ी से समझने को अपनाने की क्षमता रखता है, जैसा कि उसने  हरित क्रांति और श्वेत क्रांति में कर दिखाया है I भाटी ने  कहा कि हरियाणा के  किसानों को केवल ओरियन्टेशन की ज़रूरत है और यह काम अकेले कृषि विभाग नहीं कर सकता I  उन्होंने कहा कि इस प्रकार का  पहले किसी भी सरकार की तरफ़ से बड़ा सामूहिक प्रयास नहीं किया गया लेकिन अब वर्तमान भाजपा सरकार किसानों की आमदनी बढ़ाने के  लिए प्रयासरत हैं, उस दिशा में नए नए प्रयोग किए जा रहे हैं ।भाटी ने कहा कि प्रदेश के कृषिमन्त्री ओमप्रकाश धनखड़ को अपने  इज़राइल दौरे के दौरान  के  एक किसान ने उनसे पूछा था कि खेती कैसी हो जिस पर उन्होंने जवाब दिया था कि  किसान की उद्यमशीलता के  साथ खेती  करे लेकिन उस किसान  ने कहा था कि खेती  फैशनेबुल हो I उस किसान ने उन्हें 8 अलग अलग रंगों के टमाटर दिखाएं I  गाजर भी छह अलग-अलग रंगों की हो सकती है जिस प्रकार की शिमला मिर्च अलग अलग रंगों की आ रही है I  वहां से उन्हें फैशनेबल खेती का कंसेप्ट मिला और साथ ही उस किसान  ने कहा था कि बिजाई से पहले ही अपनी फसल को बेचे I  डिजिटली बिक्री आज  हो सकती है I  हम इससे भी आगे एग्री सर्विस अपनाना चाहते हैं अर्थात् कृषि उत्पाद उपभोक्ता के घर तक पहुंचाया जाए I भाटी ने कहा कि आज सर्विस सेक्टर में ज्यादा पैसा है I  साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि प्रदेश के सभी 6500  गांव का अपना एक ब्राण्ड  रजिस्टर्ड हो जैसे दडोली का प्याज प्रसिद्ध है और प्रदेश के गांव खेड़ी खातीवास का अमरूद I उन्होंने  कहा कि सरकार प्रदेश के 400 गांवों को ऑर्गेनिक गांव बनाने के लिए किसानों को प्रेरित कर रही है I उनमें उत्पादन गुणवत्ता का होगा और बिक्री के लिए पैकेजिंग सामग्री मार्केटिंग बोर्ड उपलब्ध करवाएगा I  उन्होंने यह भी कहा कि इस कार्यशाला में इस बात पर भी विचार किया जाएगा कि पोल्ट्री, मीट, फिश, फूल, बागवानी, दूध आदि के क्षेत्र में हम दिल्ली के आसपास और ज्यादा उत्पादन कैसे बढ़ा सकते हैं I  किसान  उद्यमशील खेती करते-करते फैशनेबल खेती करें  और  सर्विस प्रोवाइडर बने अर्थात अपने कृषि उत्पादो की  उपभोक्ता के घर पर डिलीवरी करे I  इस पर कार्यशाला में मंथन होगा I इस विषय में आज का स्टेटस क्या है और हमें कहां जाना है I  नियम, नीति, ढांचागत  के क्षेत्र में क्या करने की जरूरत है I इस कार्यशाला में युवा और नए उद्यमी भाग लें क्योंकि यह कार्य सरकार अकेले नहीं कर सकती I   उन्होंने कहा  कि  हर जिला में एक एक्सीलेंसी सेंटर होना चाहिए I  उदाहरण के तौर पर गुरुग्राम में फूलों की मंडी और बिजनेस स्कूल खोलने  पर विचार किया जा रहा है I  इसी प्रकार, झज्जर जिला के तलाव गांव  में ऑर्नामेटंल फिश एक्सीलेसीं सेन्टर बनाया जा रहा है ! भाटी ने यह भी बताया कि आने वाली एक  जनवरी से सरकार सब्जियों के न्यूनतम भाव तय करेगी और यदि किसान की सब्जी की फसल उस भाव पर  नहीं बिकती है  तो भाव में अंतर की भरपाई सरकार द्वारा की जाएगी I शुरू में 4 फसलों मुख्यता  आलू, प्याज, टमाटर और गोभी को लिया जाएगा I  उन्होंने यह भी कहा कि पेरी अर्बन  एग्रीकल्चर के लिए जो भी इंफ्रास्ट्रक्चर जरूरी  होगा, वह खड़ा किया जाएगा I उन्होंने कार्यकर्ताओ से आह्वान किया कि प्रदेश सरकार व भाजपा की किसान कल्याण व जनहितेषी नीतियो को जनता के बीच जाकर प्रचारित करे ताकि लोग 2019 मे फिर से प्रदेश व देश मे भाजपा की सरकार बनाने का काम करे !इस अवसर पर कैप्टन शयाम लाल,बहादुर सैनी,दीपक कथुरिया,सतनाम सत्ती,सभी मण्डलो के अध्यक्ष व कार्यसमिति सदस्य  मोजुद रहै !

Share