फसलों के अवशेष जलाने पर होने वाले नुकसान से बचने के लिए वर्ष-2017-18 के दौरान स्ट्रा मनैजमैंट के तहत आने वाले कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जाएगा।

पंचकूला, 9 नवंबर- कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की ओर से फसलों के अवशेष जलाने पर होने वाले नुकसान से बचने के लिए वर्ष-2017-18 के दौरान स्ट्रा मनैजमैंट के तहत आने वाले कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जाएगा।
उपायुक्त गौरी पराशर जोशी ने बताया कि विभाग द्वारा सामान्य श्रेणी व अनुसूचित जाति एवं लघु किसानों से कृषि यंत्रों के अनुदान के लिए 28 फरवरी 2018 तक ऑन लाईन आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाएंगे। इच्छुक किसान यह आवेदन पत्र निर्धारित अवधि तक सहायक कृषि अभियंता के कार्यालय में जमा करवा सकते है तथा ऑन लाईन आवेदन के लिए कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की वेबसाईट 222.ड्डद्दह्म्द्बद्धड्डह्म्4ड् डठ्ठड्ड.ठ्ठद्बष्.द्बठ्ठ पर आवेदन कर सकते है। उन्होंने स्ट्रा मनैजमैट में शामिल कृषि यंत्रों पर अनुदान के बारे में बताया कि हेप्पी सीडर, स्ट्रा बेलर, रीपर बाईडर, मल्चर, हे-रेक, स्ट्रा स्लेशर, स्ट्रा रिपर व स्ट्रा चौपर पर सामान्य श्रेणी को 50 हजार रुपऐ, अनुसूचित जाति व लघु किसानों को 63 हजार रुपए अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि रीवरसीवल प्लो पर सामान्य श्रेणी को 35 हजार व अनुसूचित जाति व लघु किसानों को 44 हजार रुपऐ का अनुदान जबकि रोटरी प्लो पर सामान्य को 20 हजार रुपऐ व दूसरी श्रेणी के किसानों को 25 हजार रुपऐ का अनुदान तथा कृषि यंत्र जीरो टिल पर सामान्य को 12 हजार रुपऐ व अनुसूचित जाति व लघु किसानों को 15 हजार रुपऐ का अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने जिला के किसानों से अपील करते हुए कहा कि वे कृषि विभाग की इन स्कीमों को लाभ लेने के लिए कार्यालय से संपर्क कर सकते है।

Share