बच्चे देश का भविष्य है, उनमें असीम ताकत एवं साहस होता है – कविता जैन.

कालका/पिंजौर, 11 अक्तूबर- बच्चे देश का भविष्य है, उनमें असीम ताकत एवं साहस होता है यदि उन्हें प्रारंभिक जीवन से ही अपनी प्राचीन संस्कृति से जोड़ा जाए तो वे आगे चलकर एक आदर्श समाज एवं राष्ट्र के नवनिर्माण में अहम भूमिका नि भा सकते है। यह कार्य हरियाणा कला परिषद हरियाणा स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से बेहतर ढंग से करने की दिशा में एक सेतु का कार्य कर रही है।
ये बात हरियाणा की शहरी निकाय मंत्री श्रीमती कविता जैन ने पिंजौर एचएमटी में स्थित डॉ भीमराव अंबेडकर ऑडिटोरियम में हरियाणा स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में हरियाणा कला परिषद द्वारा सेंट विवेकानंद मिलेनियम स्कूल के सहयोग से सारंग उल्लास नाट्यम एवं योग कला महाउत्सव के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में बोलते हुए कही। उन्होंने कहा कि कला परिषद द्वारा पिंजौर में 9 से 14 अक्तूबर तक हरियाणा स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने हरियाणा कला परिषद विशेषकर परिषद के वाईस चेयरमैन सुदेश शर्मा एवं उनकी टीम को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उनकी कड़ी मेहनत से प्रदेश में हरियाणवी संस्कृति को पुन: सशक्त एवं जीवंत रखने की दिशा में बेहतर प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कला परिषद ने प्रदेश में संगीत, लोक नृत्य, लोककायन, सांग, नाटक, चित्रकला, सुफी संगीत, मूर्तिकला जैसे विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर हरियाणा के जन-जन को हरियाणवी संस्कृति का संदेश देकर जोडऩे का काम कर रहे है।
उन्होंने कहा कि हरियाणा में तीन दिवसीय हरिरंगम नाट्यम की उत्सव की शुरूआत की गई, जिसके अंतर्गत प्रदेश के विभिन्न जिलों में तीन-तीन दिनों के 19 नाट्य उत्सव का आयोजन किया गया, जिसमें हरियाणा के रंगकर्मियों के द्वारा नाटकों के मंचन करवाए गए। वहीं प्रदेश के सभी जिलों में सात दिवसीय नाट्यम एवं लोककला उत्सवों का आयोजन किया गया, जिसमें सात अलग-अलग दिनों में नाटक, स्वांग, हरियाणवी लोक नृत्य, गायन, लाईट एंड साउंड शो तथा कवि सम्मेलन आदि के द्वारा संस्कृति के विस्तार में सहयोग दिया गया। इसके अलावा अधिकतर जिलों में लगभग 17 सांग उत्सवों का आयोजन करवाया गया, जिसमें प्रदेश की लोक संस्कृति का बखान किया गया। इतना ही नहीं प्रदेश में पहली बार नुक्कड नाटक, लेखन प्रतियोगिता का आयोजन करवाया गया, जिसमें माननीय मुख्यमंत्री महोद्य द्वारा प्रदेश के 10 सर्वश्रेष्ठ नुकक्कड नाटक लेखकों को ईनाम राशि व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इनता ही नहीं हरियाणा कला परिषद की अनूठी पहल से प्रदेश के विभिन्न जिलों के लगभग 1800 गांवों में मेक इन दंडिया, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, स्वच्छ भारत, पर्यावरण संरक्षण आदि मुद्दो के प्रति जागरूकता लाने हेतु नुक्कड़ नाटक मंचित करवाए गए।
उन्होंने कहा कि आज युवा वर्ग अपनी लोक संस्कृति से दूर होता जा रहा है, ऐसी कठिन परिस्थितियों में इन तरह के कार्यक्रम युवा पीढ़ी को जागरूक करने में अहम भूमिका निभ् भाते है। उन्होंने खुशी जाहिर की कि इन कार्यक्रमों में स्कूलों बच्चों को शामिल किया गया है, इससे उन्हें प्राचीन संस्कृति के बारे में पता चलेगा और वे अधिक समय का इसके साथ जुडऩे के लिए सदप्रयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि आज सोशल मीडिया से युवा जुड़े हुए है और वे ब्लू व्हेल गेम जैसे खतरनाक खेलों में सक्रिय हो चुके है। ऐसी परिस्थितियों में यदि बच्चों को कला एवं संस्कृति से जोड़े रखेंगे तो वे पश्चिमी सभ्यता से भी बचे रहेंगे।
इस अवसर पर कालका विधायक लतिका शर्मा ने कालका विधानसभा क्षेत्र में 9 से 14 अक्तूबर तक हरियाणा स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में हरियाणा कला परिषद द्वारा यह कार्यक्रम पिंजौर में आयोजित करवाया जा रहा है। इसके लिए वे हरियाणा के मुख्यमंत्री, विभाग की मंत्री श्रीमती कविता जैन व कला परिषद तथा सेंट विवेकानंद मिलेनियम स्कूल के प्रिंसीपल पीयूष पुंज व प्रबंधन समिति का विशेषतौर पर आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि कालका विधानसभा क्षेत्र हरियाणा का नंबर वन क्षेत्र है और इन कार्यक्रमों के माध्यम से युवाओं को नशे की लत से निजात दिलवाने की दिशा में भी राहत मिलेगी। उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री का भी विशेषतौर पर आभार प्रकट किया कि उन्होंने श्रीमती कविता जैन को इस विभाग का मंत्री बनाकर प्रदेशवासियों के साथ न्याय का कार्य किया है क्योंकि उनके मार्गदर्शन में हरियाणा कला परिषद हरियाणा संस्कृति को तरोताजा एवं जिंदा रखने के लिए प्रदेश में बेहतर कार्य कर रही है। कार्यक्रम की शुरूआत श्रीमती कविता जैन व लतिका शर्मा ने परंपरागत दीप प्रज्ज्वलित कर की।
इस मौके पर जिला भाजपा के प्रधान दीपक शर्मा, हरियाणा कला परिषद के उपचेयरमैन सुदेश शर्मा, एसडीएम कालका रिचा राठी, जिला लोक संपर्क एवं कष्ठ निवारण समिति सदस्य हरेंद्र मलिक, नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी ओपी सिहाग,भाजपा पिंजौर खंड के महामंत्री संदीप कौशल, तहसीलदार कालका डॉ कुलदीप, जिला खंड एवं विकास पंचायत अधिकारी, प्रिंसीपल पीयूष पुंज, पीओ सुनीता नैन सहित विभिन्न स्कूलों के शिक्षक, बच्चे व अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

Share