पंचकूला 4 अक्तूबर आशियाना फ्लैटों में हरियाणा सरकार द्वारा सुविधाएं ना देने वाले एवं पंचकूला शहर में बिना जानकारी पानी के बिलों में बेतहाशा वृद्धि करने बारे के बारे में हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस की वरिष्ठ उपप्रधान रंजीता मेहता के नेतृत्व में प्रदर्शन किया गया। रंजीता मेहता ने कहा कि हरियाणा सरकार जो कि लोगों के हितैषी होने का दावा करती है, इस सरकार ने लोगों की कमर तोडऩे में कोई कसर नहीं छोड़ी है7 शहर की मध्यम और गरीब जनता पिछले लंबे समय से एक तरफ तो केंद्र सरकार की महंगाई के कारण पीडि़त है। ऊपर से हरियाणा सरकार भी लोगों के ऊपर आर्थिक बोझ डालने से पीछे नहीं हट रही है7 लोगों को पानी और बिजली के बिलों में आए दिन बढ़ोतरी करके आर्थिक तौर पर हानि पहुंचाई जा रही है। रंजीता मेहता ने कहा कि 1/6/2017 से पानी एवं सीवरेज की दरों में की गई भारी वृद्धि कर दी गई है। हुडा (अब एच एस वी पी) ने पानी एवं सीवरेज सम्बन्धी सभी मदों में दर लगभग चार गुना तक बढ़ा दिए हैं जो किसी भी दृष्टि से न्यायोचित व् लोकप्रिय नहीं है 7 साधारण-जन-सम्बन्धी सरकार द्वारा एकदम इतनी असहनीय वृद्धि सराहनीय नहीं है7 इसी प्रकार बिजली मीटर सप्लाई, सीवरेज व् कनेशन स्क्यूरिटी की दरें भी 4 गुना तक बढ़ा दी हैं 7 कमर्शियल और औद्योगिक संस्थाएं भी पानी की बढ़ी हुई कीमतों से काफी दुखी हैं। रंजीता मेहता ने कहा कि इडब्ल्यूएस मकानों व आशियाना फ्लेटस में निम्न आय के रहने वाले लोगों की तो इस बेतहाशा वृद्धि ने कमर ही तोड़ दी है। आशियाना रैजीडेंट वैल्फेयर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार द्वारा बनाए गए आशियाना फ्लैट जो सेक्टर 20 ,सैक्टर 26, ग्राम अभय पुर सहित अन्य जगह पर बनाए गए हैं, उन फ्लैटों की हालत दिन-प्रतिदिन खस्ता होती जा रही है7 फ्लैटों से हर वक्त पानी टपकता रहता है, सफाई व्यवस्था की हालत बहुत खस्ता हो चुकी है, फ्लैट काफी खस्ता हालत में पहुंच चुके हैं। नगर निगम और हुड्डा ने इन फ्लैटों को पूरी तरह लावारिस छोड़ रखा है। कोई भी फ्लैट धारकों की सुनवाई नहीं कर रहा है। इस तरह कि समस्याओं से पंचकुला के इन मकानों में रहने वाले लोगों कों नरकीय जिंदगी जीने के लिए मजबूर कर दिया गया है। रंजीता मेहता एवं अन्य ने राज्यपाल के नाम सौंपे ज्ञापन निवेदन किया है कि पंचकूला से आपका काफी लगाव है अक्सर आप पंचकूला में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में में आते रहते हैं इसलिए पंचकूला की जनता की सबसे बड़ी मांग पानी के दिलों में सरकार द्वारा की गई बेतहाशा वृद्धि को तुरंत वापस लेने के लिए हरियाणा सरकार को निर्देश जारी किए जाएं ताकि आम आदमी को राहत मिल सके। हरियाणा में नरकिया जिंदगी जी रहे आशियाना फ्लैट धारकों को भी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार को निर्देश जारी किए जाएं ताकि लोग सही ढंग से अपना जीवन यापन कर सकें। इस अवसर पर एसके नैय्यर, सतीश वशिष्ठ, ओपी गोयल, सुभाष सचदेवा, कृष्ण गोयल, देवेंद्र पाठक, नरेंद्र, बब्बन, अंकुर, गीता दत्ता, रावत, वीके सिंगला, प्रमोद डाबला, बलवीर सिंह, अनिल चौहान, इशरत, कमलेश, रविंद्र रावत, पुष्पिंद्र, उमा, माया भी उपस्थित थे।

पंचकूला 4 अक्तूबर
आशियाना फ्लैटों में हरियाणा सरकार द्वारा सुविधाएं ना देने वाले एवं पंचकूला शहर में बिना जानकारी पानी के बिलों में बेतहाशा वृद्धि करने बारे के बारे में हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस की वरिष्ठ उपप्रधान रंजीता मेहता के नेतृत्व में प्रदर्शन किया गया। रंजीता मेहता ने कहा कि हरियाणा सरकार जो कि लोगों के हितैषी होने का दावा करती है, इस सरकार ने लोगों की कमर तोडऩे में कोई कसर नहीं छोड़ी है7 शहर की मध्यम और गरीब जनता पिछले लंबे समय से एक तरफ तो केंद्र सरकार की महंगाई के कारण पीडि़त है। ऊपर से हरियाणा सरकार भी लोगों के ऊपर आर्थिक बोझ डालने से पीछे नहीं हट रही है7 लोगों को पानी और बिजली के बिलों में आए दिन बढ़ोतरी करके आर्थिक तौर पर हानि पहुंचाई जा रही है। रंजीता मेहता ने कहा कि 1/6/2017 से पानी एवं सीवरेज की दरों में की गई भारी वृद्धि कर दी गई है। हुडा (अब एच एस वी पी) ने पानी एवं सीवरेज सम्बन्धी सभी मदों में दर लगभग चार गुना तक बढ़ा दिए हैं जो किसी भी दृष्टि से न्यायोचित व् लोकप्रिय नहीं है 7 साधारण-जन-सम्बन्धी सरकार द्वारा एकदम इतनी असहनीय वृद्धि सराहनीय नहीं है7 इसी प्रकार बिजली मीटर सप्लाई, सीवरेज व् कनेशन स्क्यूरिटी की दरें भी 4 गुना तक बढ़ा दी हैं 7 कमर्शियल और औद्योगिक संस्थाएं भी पानी की बढ़ी हुई कीमतों से काफी दुखी हैं। रंजीता मेहता ने कहा कि इडब्ल्यूएस मकानों व आशियाना फ्लेटस में निम्न आय के रहने वाले लोगों की तो इस बेतहाशा वृद्धि ने कमर ही तोड़ दी है।
आशियाना रैजीडेंट वैल्फेयर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार द्वारा बनाए गए आशियाना फ्लैट जो सेक्टर 20 ,सैक्टर 26, ग्राम अभय पुर सहित अन्य जगह पर बनाए गए हैं, उन फ्लैटों की हालत दिन-प्रतिदिन खस्ता होती जा रही है7 फ्लैटों से हर वक्त पानी टपकता रहता है, सफाई व्यवस्था की हालत बहुत खस्ता हो चुकी है, फ्लैट काफी खस्ता हालत में पहुंच चुके हैं। नगर निगम और हुड्डा ने इन फ्लैटों को पूरी तरह लावारिस छोड़ रखा है। कोई भी फ्लैट धारकों की सुनवाई नहीं कर रहा है। इस तरह कि समस्याओं से पंचकुला के इन मकानों में रहने वाले लोगों कों नरकीय जिंदगी जीने के लिए मजबूर कर दिया गया है।
रंजीता मेहता एवं अन्य ने राज्यपाल के नाम सौंपे ज्ञापन निवेदन किया है कि पंचकूला से आपका काफी लगाव है अक्सर आप पंचकूला में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में में आते रहते हैं इसलिए पंचकूला की जनता की सबसे बड़ी मांग पानी के दिलों में सरकार द्वारा की गई बेतहाशा वृद्धि को तुरंत वापस लेने के लिए हरियाणा सरकार को निर्देश जारी किए जाएं ताकि आम आदमी को राहत मिल सके। हरियाणा में नरकिया जिंदगी जी रहे आशियाना फ्लैट धारकों को भी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार को निर्देश जारी किए जाएं ताकि लोग सही ढंग से अपना जीवन यापन कर सकें।
इस अवसर पर एसके नैय्यर, सतीश वशिष्ठ, ओपी गोयल, सुभाष सचदेवा, कृष्ण गोयल, देवेंद्र पाठक, नरेंद्र, बब्बन, अंकुर, गीता दत्ता, रावत, वीके सिंगला, प्रमोद डाबला, बलवीर सिंह, अनिल चौहान, इशरत, कमलेश, रविंद्र रावत, पुष्पिंद्र, उमा, माया भी उपस्थित थे।

Share