हरियाणा ग्रंथ अकादमी द्वारा ‘हिन्दी पर्व’ का आयोजन 17 सितंबर को पंचकूला में प्रखर हिन्दी चिंतक एवं पत्रकार डॉ. वेद प्रताप वैदिक होंगे समारोह के मुख्य अतिथि

पंचकूला, 15 सितंबर – हरियाणा ग्रंथ अकादमी आगामी रविवार 17 सितंबर को प्रात: 11 अकादमी भवन, सेक्टर 14 पंचकूला में हिन्दी पर्व का आयोजन कर रही है। हिन्दी की राष्टï्रीय प्रासंगिकता विषय पर आयोजित इस पर्व में प्रखर हिन्दी चिंतक एवं अतर्राष्टï्रीय ख्याति प्राप्त पत्रकार डॉ. वेद प्रताप वैदिक मुख्य अतिथि होंगे, जबकि हरियाणा साहित्य अकादमी के उपाध्यक्ष एवं हिन्दी भाषा को समर्पित वयोवृद्ध पत्रकार राधेश्याम शर्मा समारोह की अध्यक्षता करेंगे।
इस संबंध में जानकारी देते हुए हरियाणा ग्रंथ अकादमी के निदेशक डॉ. विजय दत्त शर्मा ने बताया कि हरियाणा के स्वर्ण जयंती वर्ष के दौरान और हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य पर आयोजित हिन्दी पर्व में डॉ. महेश चन्द्र गुप्त, पूर्व निदेशक, राजभाषा विभाग, दिल्ली एवं डॉ. चन्द्र त्रिखा, पूर्व निदेशक हरियाणा साहित्य अकादमी विशिष्टï अतिथि होंगे तथा कुरुक्षेत्र के हिन्दी विद्वान डॉ. प्रीतम सिंह उपरोक्त विषय पर प्रकाश डालेंगे। इस समारोह में ‘हरियाणा में राजभाषा एवं हिन्दी के पचास वर्ष’, – ‘हरियाणा की हिन्दी पत्रकारिता के 50 वर्ष’ , – तकनीकी शिक्षा में हिन्दी माध्यम की प्रासंगिकता’, – स्वाधीनता संग्राम में हिन्दी की भूमिका तथा राष्टï्रजागरण में हरियाणा की हिन्दी में भूमिका’ आदि विषयों पर विद्वानों द्वारा विस्तृत चर्चा की जाएगी। उन्होंने बताया कि स्वर्ण जयंती वर्ष में हरियाणा ग्रंथ अकादमी ने 6 विशाल पुस्तक मेले, 20 संगोष्ठिïयां, 25 चिन्तन गोष्ठिïयां, 5 कार्यशालाएं तथा अनेक विस्तार व्याख्यान कराए हैं।
हरियाणा ग्रंथ अकादमी द्वारा प्रकाशित पुस्ताकें का जिक्र करते हुए डॉ. विजय दत्त शर्मा ने बताया कि हरियाणा ग्रंथ अकादमी द्वारा प्रकाशित प्रमुख पुस्तकों में ‘स्वर्णिम हरियाणा’, ‘भारतीयता के चार सोपान’, ‘सोनीपत के स्थान-नामों का विश्लेषण’, ‘हरियाणा नाट्य कथा कोश’, ‘भारतीय साहित्य अध्ययन की दिशाएं’, ‘प्रवासी हिन्दी साहित्य : वैश्विक परिदृष्य’, ‘1857 एक शंखनाद’, ‘मीडिया लिट्रेसी’, ‘विकिरण पर्यावरण आदि ज्ञान की अत्यन्त महत्त्वपूर्ण दिशाओं को आलोकित करने वाली उल्लेखनीय एवं विलक्षण पुस्तकों का प्रकाशन अकादमी की गौरव यात्रा के महत्त्वपूर्ण सोपान है। अकादमी पुस्तक लेखन के लिए सम्मानीय मानदेय भी प्रदान करती है।

Share