मानव का जीवन मूल्यवान है। इस जीवन को बचाना बहुत जरूरी है।

पंचकूला, 27 जुलाई- मानव का जीवन मूल्यवान है। इस जीवन को बचाना बहुत जरूरी है। एक बार मिलने वाले इस जीवन को राष्ट्र सेवा में लगाना चाहिए। आज इस जीवन तभी बच सकता है जब सभी लोग ट्रॉफिक नियमों का पालन करेंंगे।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से जिला में चलाए जा रहे सडक़ सुरक्षा जागरूकता अभियान वन लाइफ के तहत जाट धर्मशाला बरवाला में जागरूकता शिविर आयोजित किया गया, जिसमें प्राधिकरण के पैनल एडवोकेट राजेश कोल व पैरा लिगल वॉलिंटियर पवन राणा, यातायात पुलिस के उपनिरीक्षक सतपाल, रेडक्रॉस शाखा के रमेश चौधरी व सडक़ सुरक्षा संगठन के उपाध्यक्ष एसके जोशी ने लोगों को सडक़ सुरक्षा के बारे जानकारी दी।
इस अवसर पर रेडक्रॉस शाखा के रमेश चौधरी ने प्राथमिक सहायता के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि किस प्रकार घायल व्यक्ति को प्राथमिक सहायता देकर हम उसके अमूल्य जीवन को बचा सकते है। दुर्घटना के बाद का एक घंटे का समय अति महत्वपूर्ण होता है और पीडि़त व्यक्ति को अस्पताल पहुंचकर हम उसकी मदद कर सकते है और उसे बचाया जा सक ता है। बस स्टेंड पर उपस्थित यात्रियों को भी सडक़ सुरक्षा के महत्व की जानकारी दी गई।
एडवोकेट राजेश कोल ने बताया कि प्राधिकरण की ओर सडक़ सुरक्षा अभियान अगामी 29 जुलाई तक चलाया जाएगा लेकिन इस अभियान को हमेशा चलाने की जरूरत है जब तक समाज में चेतना पैदा नहीं होती तब तक सभी के प्रयास विफल होगे। इसलिए सबसे पहले ट्रैफिक नियमों के प्रति समाजिक चेतना पैदा करनी जरूरी है। इसके लिए सभी को सांझे प्रयास करने चाहिए। सडक़ सुरक्षा संगठन के उपाध्यक्ष ने कहा कि बच्चों को इन नियमों के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए ताकि वे अपने भविष्य को अच्छा बना सके। हमें बच्चों को बाइक न देकर जीवन देना चाहिए। उन्होंने उपस्थित लोगों को यातायात के नियमों की विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि वे इन्हें अपनाकर अपने कत्तव्यों का निर्वहन करें ताकि सडक़ हादसों को रोका जा सके।

Share