किसी के लिए जीवनदान बन सकता है रक्तदान: डा. गरिमा

पंचकूला, 29 जून- रक्त की दो बूंद किसी के लिए जीवनदान बन सकती है। रक्त को किसी भी तरीके से बनाया नहीं जा सकता बल्कि रक्तदान के माध्यम से ही एकत्रित रक्त से रक्त संबंधी जरूरतों का ेपूरा किया जाता है। यह बात उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल ने कही। वे बुधवार को मिनी सचिवालय में रेडक्रॉस सोसायटी पंचकूला की ओर से आयोजित रक्तदान शिविर का शुभारंभ करने के उपरांत रक्तदाताओं को प्रोत्साहित कर रही थी। उन्होंने कहा एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए रक्तदान से कोई नुकसान नहीं है। उन्होंने कहा रक्तदान पुण्य का कार्य है, उन्होंने इस बात पर प्रसन्नता जताई कि भारी गर्मी के बावजूद मिनी सचिवालय प्रांगण में आयोजित इस शिविर में कर्मचारियों एवं अधिकारियों ने भी रक्तदान में रूचि दिखाई है।
रक्तदान शिविर में अस्पताल सेक्टर-6 के डाक्टरों की टीम ने रक्त एकत्रित किया। बुधवार को आयोजित कैंप में 35 लोगों ने रक्तदान किया। उपायुक्त ने लोगों से अपील की कि रक्तदान के साथ-साथ अंगदान की मुहिम में अपना पूरा योगदान दें, ताकि जरूरतमंदों को नया जीवनदान मिले। इस अवसर पर नगराधीश ममता शर्मा, डीआरओ धीरज चहल, रेडक्रॉस की सचिव विजय लक्ष्मी, जिला प्रबंध अधिकारी रमेश चौधरी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Share