प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को विश्व स्तर पर पहचान दिला कर भारत व भारतीयता को सम्मानित करने का कार्य किया है-योगऋषि स्वामी रामदेव.

पंचकूला, 12 जून- हरियाणा के योग एवं आयुर्वेद के ब्रांड एंबेसडर योगऋषि स्वामी रामदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को विश्व स्तर पर पहचान दिला कर भारत व भारतीयता को सम्मानित करने का कार्य किया है। आज विश्व के अनेक देशों में योग को अपनाया जा रहा है।
स्वामी रामदेव पंचकूला के परेड ग्राउंड में राज्यस्तरीय योग प्रशिक्षण शिविर के अभ्यास के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि 21 जून का दिन देश के लिए ऐतिहासिक दिन है, जिसको प्रधानमंत्री की पहल पर संयुक्त राष्टï्र संघ ने अंतर्राष्टï्रीय योग दिवस के तौर पर मनाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि योग करने से व्यक्ति न केवल नशा, तनाव तथा रोगों से मुक्त होता है बल्कि इसके नियमित अभ्यास से व्यक्ति मानसिक एवं आत्मिक उन्नति भी करता है।
स्वामी रामदेव ने कहा कि किसी भी परंपरा का लोगों की दिनचर्या में शामिल होना कोई छोटी घटना नही है। इसके फलस्वरूप आज दुनिया के करीब 700 करोड़ लोग योग को जानने लगे हैं और उनमें से बड़ी संख्या में योग का करने भी लगे है। उन्होंने कहा कि देश में आज 20 से 25 प्रतिशत जनसंख्या ने योग को अपनी दिनचर्या में शामिल किया है। स्वामी रामदेव ने कहा कि 21 जून के उपलक्ष्य में पतंजलि योग पीठ ने पूरे देश में करीब एक लाख योग शिविर लगाये हैं और इस दिन फरीदाबाद में होने वाले विशाल कार्यक्रम में करीब एक लाख साधक योग करेंगे। इसके चलते देश में इस दिन करीब 10 करोड़ तक साधक योग में हिस्सा लेंगे।

Share