सेक्टर-15 स्थित शिशु गृह का औचक निरीक्षण .

पंचकूला, 26 मई- जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अध्यक्ष व जिला एवं सत्र न्यायाधीश रितू टैगोर व प्राधिकरण की सचिव व मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी निधि बंसल ने सेक्टर-15 स्थित शिशु गृह का औचक निरीक्षण किया। शिशु गृह की ओर से बच्चों को दी जा रही सुविधाओं के बारे मेें जानकारी प्राप्त की तथा निर्देश दिए कि यहां पर शिशुओं को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिए।
प्राधिकरण की सचिव व मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी निधि बंसल ने बताया कि इस शिशु गृह में फिलहाल 2 साल से 7 साल की उम्र के करीब 20 बच्चे रह रहे हैं। उन्होंने शिशु गृह में मिलने वाली ग्रांट के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि बच्चों की और बेहतर सुविधा प्रदान की जाएं, इसके लिए ग्रांट अगर कम आई है तो इसे बढ़वाया जाए। एक बच्चे पर कम से कम 3 हजार रुपए खर्च किए जाएं। उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य की नियमित जांच की जाए। उन्होंने शिशु गृह के स्टाफ व संचालिका को निर्देश दिए कि वे बच्चों की देखभाल मेें कोई कमी न रहने दें तथा इनके लिए शिक्षा का भी उचित प्रावधान करें। उन्होंने शिशु गृह के रसोई व सभी कमरों का निरीक्षण किया तथा शिशु गृह में साफ-सफाई के निर्देश दिए।

Share