माता मनसा देवी के दरबार में सभी भक्तों की मनोकामनाएं पूर्ण होती

Panchkula-9/4/16-माता मनसा देवी के दरबार में सभी भक्तों की मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं, इसलिए देश के कोने-कोने से भक्त यहां श्रद्धा एवं भक्ति भाव से मां के दर्शन को आते हैं। मां के दर्शन पाकर श्रद्धालु को शांति व सुख की अनुभूति प्राप्त करते हैं।
हरियाणा शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने यह वक्तव्य शनिवार को चैत्र नवरात्र के दूसरे दिन श्रीमाता मनसा देवी मंदिर में मां की पूजा-अर्चना व यज्ञ में आहुति डालने के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहीं। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में नवरात्रों का विशेष महत्व हैं। नवरात्रों को शरीर व मन की शुद्धि का प्रतीक माना जाता है। श्रीमाता मनसा देवी आस्था व श्रद्धा की प्रतीक है, यहीं कारण है कि देश-विदेश से विभिन्न हिस्सों से यहां अपनी मनोकामनाएं लेकर माता के दरबार में पंहुचते है। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति उच्च संस्कारों के कारण प्राचीन समय से विश्व में प्रसिद्ध रही है, जिस कारण भारत देश विश्व गुरु कहलाया। उन्होंने देश, प्रदेशवासियों की सुख-शांति व समृद्धि के लिए कामना की तथा विक्रमी संवत के नववर्ष की शुभकामनाएं भी दी। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि नवरात्र पर हमें प्रदेश में भाईचारा, सामाजिक समरसता व सद्भाव के साथ रहने व देश-प्रदेश के विकास में भागीदार बनने की प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि त्योहार हमें आपस में प्यार, प्रेम व खुशियों के साथ रहने की प्रेरणा देते है, इसलिए त्योहारों पर हमें सभी प्रकार के गिले शिकवे दूर कर आपस में गले मिलकर खुशी पूर्वक त्योहारों को मनाना चाहिए। इस मौके पर मंत्री ने महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य, आयुष व शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित विकास प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया।
इस अवसर पर उपायुक्त एवं श्रीमाता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य प्रशासक मनदीप सिंह बराड़, नगर-निगम आयुक्त जगदीप ढांडा, एसडीएम राधिका सिंह, नगराधीश ममता शर्मा, बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वीजी गोयल, सचिव सत्यनारायण, बोर्ड के गैर सरकारी सदस्य शारदा प्रजापति, वंदना गुप्ता व मनोनित सदस्य संदीप गुप्ता सहित बोर्ड व प्रशासन के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Share