‘रेलवे’ में 1 अप्रैल से होंगे 4 बड़े बदलाव

Mar-31(Rakesh Thakur)
भारतीय रेलवे को ‘लाइफलाइन ऑफ दि नेशन’ कहा जाता है. लेकिन अप्रैल महीने यानी नए वित्त वर्ष से देश की लाइफलाइन के नियमों में बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे. कुछ बदलाव आपकी जेब पर कैंची चलाएंगे तो कुछ आपको राहत पहुंचाएंगे. आइए जानते हैं भारतीय रेलवे में आने वाले बड़ बदलावों के बारे में.

1. हाफ टिकट पर नहीं मिलेगी अलग सीट
अभी तक 5 से 12 साल तक के बच्चों के लिए हाफ टिकट कटवाने पर भी अलग सीट मिला करती थी. लेकिन 22 अप्रैल से यह नियम खत्म हो जाएगा. अब ऐसा नहीं होगा. हालांकि हाफ टिकट करवाया जा सकेगा लेकिन इसके लिए अलग से सीट नहीं मिलेगी. एक तरफ इस कदम से जहां आम आदमी को यात्रा के लिए ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ेंगे वहीं रेलवे इससे 2 करोड़ अन्य यात्रियों को कनफर्म टिकट दे सकेगी.

2. वरिष्ठ नागरिकों, गर्भवती महिलाओं का कोटा बढ़ा
रेलवे ने सीनियर सिटीजन और गर्भवती महिलाओं के लिए ट्रेन में आरक्षण कोटा बढ़ा दिया है. यह नियम 1 अप्रैल से लागू होगा. वरिष्ठ नागरिकों का कोटा 50 फीसदी बढ़ाया गया है. अब हर ट्रेन में वृद्धों को लिए 80 से 90 सीटें आरक्षित रहेंगी वहीं गर्भवती महिलाओं के लिए 6 लोअर बर्थ आरक्षित कर दी गई हैं. एसी-2 और 3 में तीन लोअर बर्थ गर्भवती महिलाओं के लिए आरक्षित होंगी.

3. 4 महीने पहले करवा सकेंगे टिकट
अब आप 4 महीने यानी 120 दिन पहले ही टिकट करवाने करवा सकेंगे. बजट में की गई घोषणा के मुताबिक 1 अप्रैल से भारतीय रेलवे यह नियम लागू कर देगी. अभी तक यात्री 60 दिन यानी 2 महीने पहले तक ही टिकट बुक कर सकते थे.

4. एक कॉल से करवा सकेंगे टिकट कैंसिल
अप्रैल महीने से यात्री अब सिर्फ 139 पर कॉल कर अपनी टिकट कैंसिल करवा सकेंगे. इसके लिए 139 पर फोन कर टिकट की डिटेल्स देनी होगी. इसके बाद पैसेंजर को वन टाइम पासवर्ड मिलेगा. पैसेंजर को यह OTP रेलवे टिकट काउंटर पर दिखाना होगा और उसे पैसे वापस मिल जाएंगे. हालांकि जिस दिन की टिकट होगी पैसे उसी दिन तक रिफंड होंगे. यह सुविधा उनके लिए है जिन्होंने काउंटर टिकट लिया होगा.

और भी… http://aajtak.intoday.in/story/major-changes-that-indian-railways-implement-from-1st-april-1-861707.html

Share