जिला के सभी गांवों को 15 अप्रैल तक शौचमुक्त बनाने के प्रशासन के अभियान

पंचकूला, 16 मार्च- जिला के सभी गांवों को 15 अप्रैल तक शौचमुक्त बनाने के प्रशासन के अभियान को आज उस वक्त और बल मिला, जब खंड मोरनी के गांव दूधगढ़ के सुभाष ने अपनी भैंस बेचकर शौचालय बनाने का कार्य शुरू कर दिया।
उपायुक्त मनदीप सिंह बराड़ ने सुभाष के शौचालय बनाने के फैसले की सराहना करते हुए कहा कि इन्होंने अपने परिवार व गांववासियों के बेहतर स्वास्थ्य व महिलाओं की इज्जत की रक्षा के लिए जो निर्णय लिया है, वह एक अनूठा उदाहरण है। उन्होंने कहा कि सुभाष ने जिला प्रशासन की मुहिम में शौचालय बनाने का बड़ा फैसला लिया है, जोकि अन्य ग्रामीणों के लिए प्रेरणादायक है। उन्होंने कहा कि अगर जिला के सभी लोग इसी तरह अपनी सोच में परिवर्तन ले आएं और शौचालय बनाने में कोई बहाना न बनाएं तो वह दिन दूर नहीं, जब पंचकूला का नाम पूरे देश मे ंस्वच्छ जिला के रूप में जाना जाएगा। उपायुक्त ने कहा कि कोई भी बड़ा कार्य करने के लिए निर्णय भी बड़े ही लेने पड़ते हैं। सुभाष ने परिवार के लिए भैंस की जरूरत से ज्यादा शौचालय की जरूरत महसूस की और आज उनके घर में अपना शौचालय बनने जा रहा है।
अतिरिक्त उपायुक्त हेमा शर्मा ने कहा कि स्वच्छ हरियाणा-स्वच्छ भारत के तहत जिला पंचकूला में पिछले एक महीने मेें काफी काम हुआ है। जो लोग पहले शौचालय बनाने से बचते थे, वे आज खुले में शौच जाने में शर्म महसूस करते हैं। गांवों में प्रेरक भी सुबह-सुबह शर्मसार रैलियां निकालते हैं तथा लोगों को खुले में शौच न जाने बारे प्रेरित किया जाता है। उन्होंने कहा कि दूधगढ़ के सुभाष ने परिवार व गांव की भलाई के लिए बड़ा निर्णय लिया है। उन्होंने जिला के उन सभी ग्रामीणों का आह्वान किया, जिसके घर में अभी तक शौचालय नहीं है कि वे दूधगढ़ के सुभाष से प्रेरणा लें तथा अपने घरों में शौचालय बनवाएं।
दूधगढ़ निवासी सुभाष पुत्र झंडूराम ने बताया कि वे पेशे से ड्राइवर हैं। उनके घर में पत्नी, एक लडक़ा व चाचा सहित चार सदस्य हैं। उन्होंने करीब एक माह पहले 40 हजार रुपए की भैंस खरीदी थी। लेकिन घर में शौचालय की जरूरत महसूस हुई तो उन्होंने भैंस से ज्यादा शौचालय का निर्माण करवाना जरूरी समझा, इसलिए अपनी भैंस को 35 हजार रुपए में बेच दिया तथा शौचालय का निर्माण शुरू करवा दिया। उन्होंने कहा कि अभी उन्होंने शौचालय के लिए गड्ढा खोद लिया है तथा शौचालय निर्माण के लिए ईंट व सीमेंट खरीद ली हैं तथा कल से चिनाई का कार्य शुरू हो जाएगा। उन्होंने जिला प्रशासन खासकर उपायुक्त मनदीप सिंह बराड़, अतिरिक्त उपायुक्त हेमा शर्मा व गांव की प्रेरक लता देवी, खंड कोर्डिनेटर कुलदीप सिंह का धन्यवाद किया कि उनकी प्रेरणा से आज उनके घर में शौचालय बन रहा है, जिससे परिवार के सदस्यों को पूरा लाभ मिले

Share