हरियाणा : मंदिर के बाहर भीख मांगता था आईएसआईएस का संदिग्ध

हरियाणा : Jan-29 (Rakesh Thakur)
हरियाणा से गिरफ्तार किया गया आईएसआईएस का संदिग्ध मूक बधिर होने के बावजूद कैसे जासूसी करता था, यह बात खुफिया एजेंसियों को परेशान कर रही है.हरियाणा के अंबाला शहर में पुलिस के हत्थे चढ़ा संदिग्ध पूरी तरह से मूक बधिर है. वह न तो सुन सकता है और न ही बोल सकता है. उसे पढ़ना लिखना भी नहीं आता. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि वह जासूसी का काम कैसे करता था.पुलिस और खुफिया एजेंसियों के मुताबिक संदिग्ध पिछले दस साल से राजकोट के साईं मंदिर के बाहर भीख मांगता था. वह राजकोट में ही रेलवे के खंडहर बन चुके एक क्वॉर्टर में रह रहा था.एजेंसियों को पता चला है कि संदिग्ध का अहमदाबाद में रहने वाले आईएसआईएस के एक गुर्गे के साथ संबंध था. अभी तक उस गुर्गे का नाम सामने नहीं आया है.

Share