प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के दौरान 1857 में आजादी के लिए पहला बिगुल अंबाला से बजा था-बख्शीश सिंह विर्क

पंचकूला, 26 जनवरी- हरियाणा के मुख्य संसदीय सचिव बख्शीश सिंह विर्क ने कहा कि प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के दौरान 1857 में आजादी के लिए पहला बिगुल अंबाला से बजा था। इस स्वतंत्रता संग्राम में देशभर मेें अनेक वीर शहीद हुए। इन वीर सपूतों की याद में अंबाला में करीब 22 एकड़ भूमि पर एक विशाल शहीदी स्मारक बनाया जा रहा है, जिसमें 1857 के क्रांतिकारी योद्धाओं, रानी लक्ष्मीबाई, तात्या तोपे, मंगल पांडे से लेकर बहादुर शाह जफर सहित पूरे स्वतंत्रता संग्राम से संबंधित इतिहास को ऑडियो-विडियों के माध्यम से दर्शाया जाएगा।
मुख्य संसदीय सचिव बख्शीश सिंह विर्क मंगलवार को सेक्टर-5 स्थित परेड ग्राउंड में जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद जिलावासियों को अपना शुभ संदेश दे रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने परेड की टुकडिय़ों का निरीक्षण किया व भव्य मार्च पास्ट की सलामी ली। समारोह में उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों व उनके आश्रितों, शहीदों के परिजनों, युद्ध विरांगनाओं को सम्मानित किया तथा आपातकाल के दौरान जेलों में रहने वाले लोगों को ताम्र-पत्र दिए। उन्होंने समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश करने वाले बच्चों को 1.5 लाख रुपए देने की घोषणा की तथा 27 जनवरी को जिले के सभी स्कूलों व कालेजों में अवकाश घोषित किया। मुख्य संसदीय सचिव ने अपने संबोधन में कहा कि भारत को विश्व में पहचान दिलाने में स्वामी विवेकानंद, महात्मा गांधी, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, प. दीनदयाल उपाध्याय, लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की विशेष भूमिका रही। देश के गौरवमयी इतिहास में गणतंत्र दिवस का विशेष महत्व है। लंबे संघर्ष व शहीदों के बलिदान के बाद मिली आजादी के बाद 1950 में आज ही के दिन डा. भीम राव अंबेडकर के नेतृत्व में तैयार संविधान देश में लागू हुआ, जिससे भारत को संपूर्ण गणराज्य के रूप में पहचान मिली व लोगों को सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक व आर्थिक स्वतंत्रता के अधिकार प्राप्त हुए।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने 20 महीने के कार्यकाल में कई जनहितैषी योजनाएं शुरू कर आम आदमी के जीवन को ऊंचा उठाने का काम किया है। प्रधानमंत्री के महत्वाकांक्षी स्वच्छता अभियान को अपनाते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश में स्वच्छ हरियाणा-स्वच्छ भारत की शुरुआत की। देशभर में चलाए जा रहे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के फलस्वरूप आज प्रदेश मे लिंगानुपात में काफी सुधार हुआ है। देश के किसानों की समृद्धि के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को मंजूरी दी है, जिसके तहत प्राकृतिक आपदा की स्थिति में किसानों के नुकसान की भरपाई बीमा कंपनियों द्वारा की जाएगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान को रबी फसल की बीमा राशि का डेढ़ प्रतिशत, खरीब फसल के लिए दो प्रतिशत व बागवानी फसल के लिए पांच प्रतिशत प्रीमियम भरना होगा व शेष राशि केंद्र व राज्य सरकार वहन करेंगी। केंद्र सरकार ने देश में स्वदेशी व लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए स्टार्ट-अप इंडिया, स्टैंड-अप इंडिया की शुरुआत की है। इसके अलावा मेक इन इंडिया, स्क्लि इंडिया, डिजिटल इंडिया, आदर्श ग्राम योजना, सुशासन जैसी योजनाओं की शुरुआत हुई।
उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने नई उद्यम प्रोत्साहन नीति-2015 बनाई है, जिसके तहत अगले चार वर्षों में चार लाख लोगों को रोजगार देने व एक लाख करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य निर्धारित किया है। हरियाणा में स्टार्ट-अप के तहत नए उद्योगों व निवेश को बढ़ावा देने के लिए इसी वर्ष मार्च में हैपनिंग हरियाणा सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने सबका साथ-सबका विकास नारे के साथ प्रदेश में खेल, शिक्षा, स्वास्थ्य, सडक़ें, बिजली-पानी, परिवहन, समाज कल्याण, उद्योग व आधारभूत संरचना के विकास के लिए अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। सरकार ने थारी पेंशन-थारे पास योजना शुरू कर पेंशन सीधी लाभपात्रों के खाते में भेजी जा रही है तथा नए साल से बुजुर्गों की पेंशन बढ़ाकर 1400 रुपये की गई है। सरकार की पंचायत प्रतिनिधियों के लिए शिक्षा की शर्त की बदौलत पंचायत चुनावों में शिक्षित नौजवान व महिलाओं का चयन हुआ है, जिसका लाभ भविष्य में गांवों के विकास के रूप में दिखेगा।
उन्होंने कहा कि सरकार ने म्हारा गांव-जगमग गांव योजना शुरू की है, जिसके तहत गांवों में बिलों की अदायगी में 80 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है तथा इन गांवों में निर्बाध बिजली आपूर्ति की जा रही है। अंबाला फीडर के तहत आने वाले पंचकूला जिले के कई गांवों को भी इस योजना का लाभ मिला है। लोगों की शिकायत सुनने के लिए स्थापित सीएम विंडों पर एक लाख 30 हजार शिकायतें, मांग व सुझाव आए हैं, जिनमें से एक लाख 13 हजार 160 का समाधान किया जा चुका है। प्रदेश में डाक्टरों की कमी को दूर करने व मेडिकल शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सभी जिलों में एक-एक मेडिकल कॉलेज खोलने का संकल्प लिया है। गीता के संदेश को जन-जन तक पंहुचाने के लिए प्रदेश में पहली बार गीता जयंती उत्सव प्रदेश के सभी जिलों में उत्साह के साथ मनाया गया। इसी प्रकार बसंत पंचमी के अवसर पर सरस्वती नदी के बहाव मार्ग पर यमुनानगर, कुरुक्षेत्र व कैथल जिलों में सरस्वती उत्सव मनाए जाएंगे। कालाअंब से सिरसा और यमुनानगर से दिल्ली के लिए सरस्वती एक्सप्रेस बसे चलाई गई हंै। स्कूली बच्चों में नैतिक मूल्यों में विकास के लिए प्रदेश के सभी स्कूलों में पहली कक्षा से 11वीं कक्षा तक नैतिक शिक्षा को पाठयक्रम में शामिल किया जाएगा।
मुख्य संसदीय  सचिव ने कहा कि प्रदेश में 32 हजार करोड़ रुपये से मजबूत सडक़ तंत्र बनाने के साथ-साथ नौ राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किए गए हैं। प्रधानमंत्री ने अभी हाल ही में 13 हजार 802 करोड़ रुपये की तीन बड़ी सडक़ परियोजनाएं शुरू की हैं। सरकार ने हरियाणा खेल एवं शारीरिक फिटनेस नीति-2015 बनाई है, जिसके तहत राज्य के सभी गांव, कस्बों व शहरों में 10 हजार व्यायाम एवं योगशालाएं खोली जाएंगी। स्कूल व कॉलेज जाने वाली लड़कियों की सुविधा के लिए स्पेशल बसें चलाई जा रही हैं व गांव में लोगों को एक छत के नीचे ही प्रशासनिक सुविधाएं देने के लिए ग्राम सचिवालय बनाए जा रहे हैं। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को ऑन लाइन किया जा रहा है, जिसके तहत राशन कार्ड धारकों को मिलने वाले राशन आटा, दाल, चावल, चीनी, तेल व अन्य वस्तुओं के वितरण की सूचना मोबाइल पर एसएमएस द्वारा दी जाएगी। हरियाणा में जीरो टोलरेंस की नीति पर कार्य किया जा रहा है। तहसीलों में रजिस्ट्रेशन कार्य को आसान व पारदर्शी बनाने के लिए नई ऑनलाइन प्रणाली शुरू की गई है। महिलाओं की सुरक्षा के लिए सभी जिलों में महिला थाने खोले गए हैं।
इस अवसर विधायक पंचकूला ज्ञानचंद गुप्ता, विधायक कालका लतिका शर्मा, मेयर उपेंद्र कौर आहलुवालिया, पुलिस आयुक्त ओपी सिंह, उपायुक्त मनदीप सिंह बराड़, उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के निदेशक विवेक आत्रेय, सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के महानिदेशक राजीव रंजन, पुलिस उपायुक्त अनिल धवन, अतिरिक्त उपायुक्त हेमा शर्मा, नगर निगम के आयुक्त जगदीप ढांडा, हुडा के संपदा अधिकारी कमलेश भादू, आरटीए कुशल कटारिया, एसडीएम ममता शर्मा व नगराधीश राधिका सिंह, भाजपा की उपाध्यक्ष बंतो कटारिया, जिला भाजपा प्रधान दीपक शर्मा, श्याम लाल बंसल, विरेंद्र गर्ग, बीबी सिंगल सहित विभिन्न विभागों के प्रशासनिक अधिकारी व सेना के अधिकारी उपस्थित थे।
फोटो कैप्शन : 1 से 30 मुख्य संसदीय सचिव
Share