करगिल युद्ध: में भारतीय सेना की गति एवं प्रचंडता से पाकिस्तान था हैरान

करगिल:Dec-30(Rakesh Thakur)
करगिल युद्ध में आठवीं माउंटेन डिवीजन का नेतृत्व करने वाले लेफ्टिनेंट जनरल मोहिंदर पुरी ने कहा है कि भारतीय सेना ने जिस गति और स्वत:स्फूर्त ढंग से हमला बोला था, उसने दुश्मन को हैरत में डाल दिया था और उसी के चलते 1999 में करगिल युद्ध में विजय मिली थी. उन्होंने कहा, ‘हमने अपने अभियान की गति एवं प्रचंडता से दुश्मन को आश्चर्यचकित कर दिया. हमने उनके खिलाफ अपना अभियान बहुत तेजी से संचालित किया और उन्हें पूरी तरह से हैरान कर दिया. यह उन कारणों में से एक है जिसके चलते हम दुश्मन को वहां से निकालने में सफल हुए.’ तत्कालीन मेजर जनरल पुरी ने ऐसी ही एक घटना का उल्लेख करते हुए बताया कि किस तरह से महत्वपूर्ण तोलोलिंग चोटी पर कब्जे के कई असफल प्रयासों के बाद उन्होंने अपने जवानों से अगली शाम फिर से हमला करने के लिए कहा था लेकिन जब तक वह अपने मुख्यालय पहुंचते भारत ने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण उस चोटी को फतह कर लिया था.

Share